क्या यही मुसिबत की जड़ है?..Root Cause

Devendra Budakoti 1

क्या सामाजिक बुराईयाँ जैसे घरेलू हिंसा और सार्वजनिक उपद्रव दारू से जुडी है?.

Are social evils like domestic violence and public nuisance linked with alcohol?.

-Devendra Budakoti

One thought on “क्या यही मुसिबत की जड़ है?..Root Cause

  1. Liquor is the problem for the addicts. But people who consume it moderately is not problem for the society. Also social drinking is a curse for the society making it a status symbol. Regarding use of liquor in marriages is not applicable. I have the observed that majority of marriages are being solemnised during night. Regards

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

मुख्यमंत्री ने सीडीएस बिपिन रावत को दी श्रद्धांजलि

देहरादून: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक, कैबिनेट मंत्री डॉ. धन सिंह रावत एवं विधायक हरवंश कपूर ने बलवीर रोड स्थित भाजपा कार्यालय में सीडीएस जनरल बिपिन रावत जी के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। विदित हो कि सीडीएस बिपिन रावत का हेलिकॉप्टर बुद्धवार […]