नशा मुक्ति केंद्र में युवक की मौत

Ghughuti Bulletin

 देहरादून:  नशा मुक्ति केंद्र में ऋषिकेश के शांति नगर निवासी एक युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। यही नहीं मौत के बाद नशा मुक्ति केंद्र के संचालक शव को आधी रात घर पर भी छोड़ने पहुंच गए थे। परिजनों ने जब मौत के कारणों के बारे में पूछा तो उन्होंने कोई स्पष्ट जवाब नहीं दिया।

परिजनों ने बेटे की मौत पर संदेह जाहिर करते हुए नशा मुक्ति केंद्र के 5 कर्मचारियों को पकड़ लिया। हंगामा हुआ तो पुलिस भी पहुंची. किसी तरह पुलिस ने रात को मामला शांत कराया। फिलहाल पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

इस मामले में पुलिस ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही अग्रिम कार्रवाई की जाएगी। युवक के परिजनों का आरोप है कि उनके बेटे को मारा गया है। एक सप्ताह पहले ही बेटे को नशा मुक्ति केंद्र में भर्ती कराया गया था।

मृतक की मां बाला देवी ने बताया कि बेटा नशे का आदी था. इसलिए उसे देहरादून के नशा मुक्त केंद्र में स्थानीय एजेंट के कहने पर भेजा गया था। कुछ दिन पहले बेटे से मिलने के लिए नशा मुक्त केंद्र गई, तो संचालकों ने मिलने भी नहीं दिया।

अचानक बेटे के बीमार होने की जानकारी देकर कुछ देर बाद ही बेटे के मरने की खबर देना कहीं ना कहीं संचालकों पर शक पैदा करता है। यही नहीं संचालकों ने मामले में पुलिस को भी जानकारी नहीं दी. शव ऋषिकेश पहुंचा तो मौके पर पुलिस को बुलाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

बर्थडे पार्टी में दो युवकों ने झोंका फायर, गिरफ्तार

देहरादून:  प्रेमनगर क्षेत्र में आधी रात को चली गोलियों की आवाज से लोग सकते में आ गये। जानकारी जुटाने पर पता चला कि झाझरा स्थित साइलोक कॉलोनी में युवकों का आपसी विवाद हो गया। जिसके चलते इनमें से दो युवकों ने फायर झोंक दिया। देहरादून के प्रेमनगर क्षेत्र में आधी […]