24 वर्षीय समाजसेवी मिली कौर अरोड़ा को वल्र्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड सम्मान से नवाजा गया

देहरादून: जनपद देहरादून के छोटे से सिख परिवार में जन्मी मिली कौर अरोड़ा का बचपन से ही पशुओं की सेवा में लगी रही। कहते हंै न अगर आपको जीवनसाथी अच्छा मिल जाए तो आपके जीवन की आधी मुसीबतें खत्म हो जाती है और अगर उसमें जीवन साथी सामाजिक मिल जाए तो आप जीते जी स्वर्ग आ गए ऐसी ही कहानी है मिल्ली की।

पिछले 5 वर्षों से अपने पति के साथ मिलकर लगातार सामाजिक कार्यों में आगे रहने वाली मिल्ली कौर को अंतराष्ट्रीय संस्था वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड से समानित किया गया। मिली को इससे पहले भी उनके विभिन्न क्षेत्रों में किए गए उल्लेखनीय कार्यों व समाज सेवा के लिए राष्ट्रीय एवं अंतरष्ट्रीय पुरस्कार मिल चुके हैं।

मिली के पति आशु अरोड़ा ने बताया कि महिलाएं समाज का एक अभिन्न अंग हंै और उनको उनके कार्यों के लिए सम्मान एवं प्रशंसा मिलनी चाहिए, हालांकि कुछ लोग उन्हें कमजोर समझते है इस कारण वो अपनी क्षमताओं का उपयोग नहीं कर पाती। सोशल टॉक्स के संस्थापक सचिन गांधी ने बताया हमारी संस्था समाज में सामाजिक लोगों को एक मंच देने की कोशिश करती है इसी को देखते हुए संस्था द्वारा लगातार ऐसे लोगों को एक मंच दिया जाता है दोस्तों कहते है तुम लाख बुराई कर लो हमारी हमने तो बस चलते रहना है कभी हंस कर ,कभी रोकर हमने तो समाज के लिए काम करते रहना है ।

सोशल टॉक संस्था द्वारा कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि डॉक्टर राजीव कुमार रघुवंशी निदेशक रहे। इंडीयन फार्मा कोपिया कमिसन ,मिनिस्टरी ऑफ हेल्थ एंड फैमिली वेलफेयर भारत सरकार, शधवि भगिरती सरस्वती ,एम.एस.एम .ई मिनिस्टर गणेश जोशी ,ड्रग कंट्रोल डेपुटी, अतुल नासा व वलर्््ड बुक ऑफ रिकॉर्ड के संस्थापक डॉक्टर दिवाकर शुक्ल आदि कार्यक्रम में मौजुद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

महिलाओं के लिए निःशुल्क सिलाई प्रशिक्षण केन्द्र खुला

देहरादून:  महिला सशक्तिकरण के अंतर्गत सत्या फाउण्डेशन वेलफेयर ट्रस्ट द्वारा महिलाओं को निःशुल्क सिलाई प्रशिक्षण दिया जा रहा है। सिलाई प्रशिक्षण केन्द्र का उद्घाटन रविवार को डोभाल चैक वनस्थली में मुख्यअतिथि के रूप में उपस्थित क्षेत्रीय विधायक उमेश शर्मा काऊ ने विधिवत रिबन काटकर किया। कार्यक्रम में मुख्य अथिति का […]