320 किलो अवैध विस्फोटक बरामद, एक गिरफ्तार

अल्मोड़ा:  अल्मोड़ा जिले के बाड़ेछीना सेराघाट मोटर मार्ग के चोपड़ाथल नामक जगह पर पुलिस ने एक कमरे से 320 किलो विस्फोटक पदार्थ बरामद किया. यह कार्रवाई पुलिस और राजस्व विभाग की संयुक्त टीम ने की।

बरामद विस्फोटक पहाड़ तोड़ने तथा खड़िया की खदानों में इस्तेमाल किया जाता है।

पुलिस ने विस्फोटक पदार्थ अपने कब्जे में लेकर एक आरोपी को भी मौके से गिरफ्तार किया है।

राजस्व उपनिरीक्षक कृपाल सिंह बेलवाल ने बताया कि कुल 320 किलो विस्फोटक बरामद हुआ जो कि अवैध रूप से सड़क किनारे सटे एक मकान के कमरे में रखा था। आरोपी के पास विस्फोटक सामग्री का कोई वैध लाइसेंस नहीं था, जिसको देखते हुए पुलिस ने कार्रवाई की।

पुलिस ने मौके से गोदाम प्रभारी शेर सिंह को धारा 5, विस्फोटक पदार्थ अधिनियम 1908 के तहत गिरफ्तार किया है।

राजस्व उपनिरीक्षक कृपाल सिंह बेलवाल ने बताया कि बरामद विस्फोटक में से 5 पेटी नाइट्रेट मिक्सचर, 3 पेटी डेटोनेटिंग फ्यूज, दो रोल डेटोनेटिंग वायर, पांच पेटी सेफ्टी फ्यूज, तथा 47 क्ववाइल शामिल थी।

पुलिस की मानें तो इसका इस्तेमाल अवैध खनन के लिए किया जाता है। बताया जा रहा है कि बरामद विस्फोटक एक कंपनी का है। कंपनी के प्रतिनिधि का कहना है कि वे सड़क निर्माण और अन्य कार्यों में लाइसेंसधारी ठेकेदारों को विस्फोटक की सप्लाई करते हैं।

करीब 150 मीटर की दूरी पर कंपनी का गोदाम है, लेकिन सड़क खराब होने से इसे गोदाम में नहीं पहुंचाया जा सका और कर्मचारी के रहने के लिए प्रयोग होने वाले कमरे में ही इसे रख दिया गया।

एसएसपी अल्मोड़ा पंकज भट्ट ने बताया कि इस मामले में फिलहाल एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है, विस्फोटक क्यों रखा गया था इसकी जांच की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

पांच फीट बर्फ में ढका हेमकुंड साहिब, आस्था पथ भी बर्फ से लबालब

चमोली:  हिमालय क्षेत्र में सात शिखरों के मध्य स्थित पवित्र हेमकुंड साहिब जून माह में भी करीब पांच फीट बर्फ से ढका हुआ है। जबकि कोरोना संक्रमण के चलते हेमकुंड साहिब की यात्रा अभी तक शुरू नहीं की गई है। हेमकुंड साहिब से गुरुद्वारा प्रबंधन के अधिकारी और कर्मचारियों ने […]