धामी सरकार का एक और राहत पैकेज, रोजगार के लिए देगी 118 करोड़

Ghughuti Bulletin

-प्रदेश में 7 लाख 54 हजार लोगों को मिलेगा लाभ
-पर्यटन कारोबार के लिए भी हो चुका है ऐलान

देहरादून:  उत्तराखंड के लिए युवाओं को रोजगार देने के लिए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने एक और पैकेज ऐलान किया है। मुख्यमंत्री ने कोरोना काल में प्रभावित होने के कारण 118 करोड़ 33 लाख रुपए की धनराशि का राहत पैकेज देने की घोषणा की है।

कोविड-19 महामारी के बीच धामी सरकार रोजगार को बूस्ट देने के लिए 118 करोड़ 33 लाख रुपए के पैकेज का ऐलान किया है। सरकार एक और राहत पैकेज की घोषणा जल्द कर सकती है। इससे प्रदेश में 7 लाख 54 हजार 984 लोगों को लाभ मिलेगा।

वहीं, बीते 22 जुलाई को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कोरोना काल में आर्थिक तंगी से जूझ रहे पर्यटन कारोबारियों को बड़ी राहत दी है। सीएम ने पर्यटन, ट्रैकिंग ,वोटिंग, गाइड, होटल और परिवहन व्यवसाय से जुड़े कारोबारियों के लिए 200 करोड़ रुपए के आर्थिक पैकेज की घोषणा की थी। इस आर्थिक पैकेज से तकरीबन 1 लाख 63 हजार पर्यटन कारोबारियों को सीधा लाभ मिलेगा।

इसके साथ ही पैकेज के तहत पर्यटन विभाग में पंजीकृत व्यवसायी को 6 माह तक दो हजार रुपए प्रतिमाह प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इसके अलावा पंजीकृत 655 टूर ऑपरेटरों, ट्रैकिंग ऑपरेटरों और 630 गाइड को 10-10 हजार एकमुश्त दिए जाएंगे।

-उत्तराखंड में बेरोजगारी की दर

उत्तराखंड में पांच साल में बेरोजगारी दर छह गुना से ज्यादा बढ़ गई है। कोरोना महामारी के दौरान इसमें सबसे तेजी से वृद्धि हुई। सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी के मुताबिक 2016-2017 में बेरोजगारी दर 1.61 प्रतिशत थी, जो अब बढ़कर 10.99 प्रतिशत पहुंच गई है। वर्ष 2018-19 तक बेरोजगारी दर बढ़ने के बावजूद सिर्फ 2.79ः फीसदी थी। कोरोना से पहले 2019-20 में यह तेजी से बढ़कर 5.32 प्रतिशत हो गई है।

-कितने प्रवासी वापस लौटे

अप्रैल 2021 से 5 मई 2021 के बीच उत्तराखंड के शहरी इलाकों से ग्रामीण इलाकों में 53 हजार प्रवासी उत्तराखंड लौटे हैं। इसमें सर्वाधिक 27.90 प्रतिशत लोग अल्मोड़ा से हैं। पौड़ी में 17.84 प्रतिशत, टिहरी में 15.23 प्रतिशत, हरिद्वार में 0.11प्रतिशत, देहरादून में 0.29 प्रतिशत, यूएसनगर में 0.66 प्रतिशत प्रवासी घर लौटे हैं। पिछले साल सितंबर 2020 तक करीब 3.57 लाख प्रवासी उत्तराखंड लौटे थे, इनमें सबसे ज्यादा पौड़ी, टिहरी और अल्मोड़ा के लोग शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

अनबन के चलते इमरान ने की थी दीक्षा की हत्या, एक साल में थे लिवइंन रिलेशन शिप में

-नैनीताल मे होटल में की थी गला दबाकर हत्या नैनीताल:  दीक्षा मिश्रा हत्याकांड में नैनीताल पुलिस ने मुख्य आरोपी ऋषभ तिवारी उर्फ इमरान को यूपी के नोएडा से गिरफ्तार कर लिया है। कल 17 अगस्त ही को दीक्षा मिश्रा के परिजन नैनीताल पहुंचे थे। पोस्टमॉर्टम के बाद पुलिस ने दीक्षा […]