दून मेडिकल कॉलेज की एसोसिएट प्रोफेसर ने स्वास्थ्य सचिव पर लगाया अभद्र व्यवहार करने का आरोप

Ghughuti Bulletin

देहरादून: उत्तराखंड के देहरादून में एक सरकारी मेडिकल कॉलेज के एक एसोसिएट प्रोफेसर ने गुरुवार को स्वास्थ्य सचिव पर अभद्र व्यवहार का आरोप लगाते हुए इस्तीफा दे दिया।

दून मेडिकल कॉलेज की एसोसिएट प्रोफेसर डॉ निधि उनियाल ने सचिव (स्वास्थ्य) पंकज पांडे को संबोधित अपने त्याग पत्र में उल्लेख किया कि उनका निर्णय ‘सचिव (हीथ) के उच्च व्यवहार के विरोध में’ था। यह पत्र जल्द ही सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसमें कई उपयोगकर्ताओं ने डॉक्टर के कृत्य की प्रशंसा की और उसके लिए न्याय की मांग की।

देहरादून के सरकारी मेडिकल कॉलेज में जनरल मेडिसिन की प्रैक्टिस करने वाली डॉ उनियाल ने आरोप लगाया कि ओपीडी में अपनी ड्यूटी से समझौता कर वह सचिव की पत्नी का मेडिकल चेक-अप करने गई थीं, जैसा कि कहा गया था।

“मैंने दो अन्य सहयोगियों के साथ आवास का दौरा किया और उसकी (सचिव की पत्नी) जांच की। मेरा बीपी इंस्ट्रूमेंट कार में रह गया था। जब यह आया, तो पांडे की पत्नी ने मेरे पेशे को नीचा दिखाने वाले अप्रिय शब्दों का सहारा लिया,” उसने त्याग पत्र में लिखा था कि उसे “माफी मांगने के लिए कहा गया था, जिसे मैंने मना कर दिया क्योंकि मेरी कोई गलती नहीं थी”। इस पूरे प्रकरण के बाद डॉक्टर को अल्मोड़ा के दूसरे मेडिकल कॉलेज में स्थानांतरित कर दिया गया था। जिसके बाद नाराज डॉक्टर ने आईएएस अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है|

“यह एक तरह से जहरीला है … मैं एतद्द्वारा इस दलील के साथ इस्तीफा देती हूं कि संबंधित सचिव के खिलाफ कार्रवाई शुरू की जानी चाहिए”।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

राज्यसभा में नगालैंड की पहली महिला राज्यसभा सांसद बनी एस फान्गनॉन कोन्याक

देहरादून: आज राज्यसभा में एक नया रिकॉर्ड कायम हुआ है| आज से पूर्व राज्यसभा में नगालैंड से कोई भी महिला सदस्य नहीं था।लेकिन आज एस फान्गनॉन कोन्याक नगालैंड की पहली महिला राज्यसभा की सांसद बन गईं| कोन्याक को राज्यसभा के सभापति और उप-राष्ट्रपति वैंकैया नायडू ने शपथ दिलाई। इस दौरान […]