बदरीनाथ धाम में गिरी बर्फ की फुहारें, बारिश से फिर लौटी ठंड

Ghughuti Bulletin

-बदरीनाथ धाम में बर्फबारी से नजारा मनमोहक

-18 मई को खुलने हैं बदरीनाथ धाम के कपाट

-औली सहित पर्वत श्रृंखलाओं में अभी भी बर्फबारी

चमोली: उत्तराखंड में मौसम ने करवट बदल ली है. बदरीनाथ धाम, हेमकुंड साहिब समेत आसपास की ऊंची चोटियों में बीते दिन से रूक-रूक कर बर्फबारी हो रही है।

जबकि, निचले इलाकों में बारिश होने से एक बार फिर ठंड लौट आई है। औली के गोरसों बुग्याल, रुद्रनाथ, फूलों की घाटी, नीलकंठ पर्वत श्रृंखला में अभी भी बर्फबारी जारी है।

वहीं, लगातार हो रही बर्फबारी से हेमकुंड साहिब में आस्था पथ से बर्फ हटाने का कार्य भी प्रभावित हो रहा है। जहां एक ओर मैदानी इलाकों में लोग धूप की तपिश से परेशान हैं। वहीं दूसरी ओर पहाड़ों में अभी भी ठंड का एहसास हो रहा है।

अप्रैल महीने के तीसरे हफ्ते में भी बदरीनाथ धाम और आसपास के इलाकों में जमकर बर्फबारी हो रही है. बदरीनाथ धाम में बर्फबारी का नजाारा बेहद सुकून देने वाले हैं। बदरीनाथ धाम में बर्फबारी से नजारा मनमोहक बना हुआ है। पूरी बदरीपुरी बर्फ की सफेद चादर से ढक चुकी है।

बदरीनाथ धाम के अलावा नर नारायण, नीलकंठ, सतोपंथ, माणा, बसुधारा, स्वर्गारोहिणी की चोटियां बर्फ से ढक चुकी है। गौर हो कि बदरीनाथ धाम के कपाट 18 मई को खुलने है। जिसे लेकर प्रशासन की ओर से तैयारियां शुरू करने को लेकर बैठकों का दौर जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

बदलते मौसम में शीतल पेय का इस्तेमाल नुकसान दायक

-शीतल पेय,बासी भोजन, खुले में बिकने वाले खाद्य पदारर्थों से परहेज करें: डॉ. बिष्ट  हल्द्वानी:  मौसम बदलने के साथ ही अस्पतालों में उल्टी-दस्त, सर्दी-जुकाम, खांसी और बुखार के मरीजों की संख्या में इजाफा होने लगा है। बदलते मौसम में शीतल पेय पदार्थ लोगों की सेहत खराब कर सकते हैं। ऐसे […]