उत्तराखण्ड पुलिस के डीएसपी अंकुश मिश्रा को बेस्ट साइबर कॉप का अवार्ड

Ghughuti Bulletin

देहरादून: उत्तराखण्ड पुलिस के डीएसपी अंकुश मिश्रा को बेस्ट साइबर कॉप्स का अवार्ड मिला है। देश में सिर्फ तीन अधिकारियों को ही यह सम्मान दिया गया है।

डाटा सेक्योरिटी काउन्सिल आफ इंडिया द्वारा नई दिल्ली में आयोजित 16th DCSI एक्स्लैंड अवार्ड -2021 में देश से चयनित तीन सर्वश्रेष्ठ साइबर कॉप्स में उत्तराखण्ड राज्य को विशेष स्थान दिया गया।

पिछले दिनों डाटा सेक्योरिटी काउन्सिल आफ इंडिया द्वारा नई दिल्ली में आयोजित16th DCSI एक्स्लैंड अवार्ड -2021हेतु देश के तीन सर्वश्रेष्ठ साइबर कॉप्स के चयन के लिये कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें देश भर के सभी राज्यो के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया था

एसएसपी एसटीएफ अजय सिंह ने बताया कि उत्तराखण्ड राज्य से अंकुश मिश्रा पुलिस उपाधीक्षक साइबर क्राइम स्पेशल टास्क फोर्स को कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए नामित किया गया । कार्यक्रम में देशभर से सभी राज्यों द्वारा करीब 55 साइबर मामलो का प्रस्तुतीकरण किया गया, जिनमें जूरी द्वारा 55 मामलों में से सर्वश्रेष्ठ तीन मामलों का चयन कर अन्तिम सूची जारी की गयी । चयनित अन्तिम सूची में स्पेशल टास्क फोर्स उत्तराखण्ड , आन्ध्रा पुलिस और सीआईडी कर्नाटक को सम्मानित किया गया।

डाटा सेक्योरिटी काउन्सिल आफ इंडिया द्वारा तीन पुलिस अधिकारियों में पहले अंकुश मिश्र, डिप्टी एसपी, साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन, स्पेशल टास्क फ़ोर्स उत्तराखंड, दूसरे के एन यसवन्था कुमार डिप्टी एसपी साइबर क्राइम डिविज़न क्रिमनल इन्वेस्टिगेशन डिपार्टमेंट कर्नाटका तीसरे के रमेश पुलिस इंस्पेक्टर ,CCS, चत्तुर पुलिस स्टेशन आंध्र प्रदेश को देश के सर्वश्रेष्ठ साइबर कॉप्स के रुप में फाइनल लिस्ट में चयनित किया गया।

अंकुश मिश्रा की इस उपलब्धि के लिए अशोक कुमार, पुलिस महानिदेशक ने बधाईदी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

उत्तराखण्ड पुलिस में 1718 पदों पर होगी भर्ती, आदेश जारी

-मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने निभाया बेरोजगारों से किया वादा -उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग शुरू करेगा सिपाहियों के 1521 और दरोगाओं के 197 पदों पर भर्ती देहरादून: राज्य की धामी सरकार ने बेरोजगार युवाओं को पुलिस विभाग में भर्ती के दरवाजे खोल दिए हैं। शासन ने सिपाहियों के 1521 […]