केंद्र ने जू को फारेस्ट्री एक्टिविटी किया घोषित

Ghughuti Bulletin

देहरादून: उत्तराखंड में अब जू के लिए वन विभाग को अपनी ही लैंड ट्रांसफर नहीं करानी पड़ेगी। केंद्र ने जू को फारेस्ट्री एक्टिविटी घोषित कर दिया है।

इसके अलावा कैंपा से इसके लिए बजट देने को भी मंजूरी दे दी है। इससे राज्य में हल्द्वानी जू, जसपुर टाइगर सफारी और कण्वाश्रम कोटद्वार में जू व रेस्क्यू सेंटर का काम जल्द शुरू हो पाएगा। 

केंद्र ने इसके लिए कई तरह की शर्तें भी रखीं हैं। जिसमें पेड़ कम से कम काटने का ध्यान रखने को कहा है। इसके अलावा 40 प्रतिशत तक पेड़ वाली वन भूमि पर ही जू बनाने को कहा गया है। इसके अलावा वहां स्थानीय पेड़ पौधों की प्रजातियों को ही विकसित करने और ज्यादा से ज्यादा नेचुरल वातावरण रखने को कहा गया है। इसे अलावा वहां ईको फ्रेंडली कंस्ट्रक्शन करना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

जमरानी बांध बहुउद्देशीय परियोजना को मिली भारत सरकार से निवेश स्वीकृति

देहरादून: राज्य में जमरानी बांध बहुउद्देशीय परियोजना को केंद्र सरकार की ओर से स्वीकृति मिल गई हैI जिसके बाद इस परियोजना पर जल्दी ही पुनर्वास सहित निर्माण कार्य शुरू किये जायेंगेI परियोजना को प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के अन्तर्गत निवेश की स्वीकृति प्रदान की गई हैI सचिव सिंचाई हरि चन्द्र […]