मुख्यमंत्री धामी ने की मानसखण्ड कोरिडोर को लेकर उच्च अधिकारियों के साथ बैठक

Ghughuti Bulletin

देहरादून: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने विधानसभा में मानसखण्ड कोरिडोर को लेकर उच्च अधिकारियों के साथ बैठक की। इस दौरान सीएम धामी ने कुमाऊं मानसखण्ड के अंतर्गत आने वाले मंदिरों को सडकों से सीधे जोड़ने के निर्देश दिएI उन्होंने चारधाम यात्रा से लेकर प्रदेश में पर्यटन को और व्यवस्थित करने पर जोर दियाI मुख्यमंत्री ने राज्य को 2025 तक अग्रणी राज्य बनाने के सम्बन्ध में अधिकारीयों को निर्देश दिए कि इसके लिए विभागों से उनकी कार्ययोजना मांगी जायI

गुरूवार को विधानसभा में हुई बैठक में मुख्य्मंत्री ने कहा कि उत्तराखण्ड प्राकृतिक संपदाओं वाला राज्य है, अवस्थापना सुविधाओं के विकास पर विशेष ध्यान दिया जाए। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि कुमाऊं मानसखण्ड सर्किट में जो भी मन्दिर लिये जा रहे हैं, उनको सुव्यवस्थित तरीके से बेहतर सड़क कनेक्टिविटी से जोड़ा जाय। गोल्ज्यू सर्किट को विकसित करने के लिए सुनियोजित प्लान बनाया जाए। 2025 तक उत्तराखण्ड को देश का अग्रणी राज्य बनाने के लिए प्रत्येक विभाग द्वारा क्या कार्ययोजना बनाई जा रही है, विभागों से जल्द उनकी कार्ययोजना मांगी जाय।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य का राजस्व बढ़ाने के लिए इनोवेटिव प्रयासों की जरूरत है। पर्यटन के क्षेत्र में राज्य में अनेक संभावनाएं हैं। पर्यटन स्थलों एवं धार्मिक स्थलों के लिए रोपवे, सड़क एवं अन्य अवस्थापना सुविधाओं के विकास के लिए जो स्वीकृतियां हो चुकी हैं, उन कार्यों में तेजी लाई जाए। कहा धार्मिक एवं आध्यात्मिक राज्य होने के साथ ही उत्तराखण्ड का नैसर्गिक सौन्दर्य भी पर्यटकों को आकर्षित करता है।

सीएम ने कहा कि राज्य में साहसिक खेलों के क्षेत्र में अनेक संभावनाएं हैं, इस दिशा में भी विशेष ध्यान दिया जाय। राज्य में उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं। औद्योगिक क्षेत्र से जुड़े लोगों को राज्य में उद्योगों की स्थापना के लिए हर संभव सहायता देने के प्रयास किये जा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के दूरस्थ क्षेत्रों तक सुदृढ़ नेटवर्क कनेक्टिविटी हो, इसके लिए सर्विस प्रोवाइडरों के साथ बैठक की जाय और उचित समाधान निकाला जाय। वहीं उन्होंने कहा चारधाम यात्रा के साथ श्रद्धालुओं व पर्यटकों को प्रदेश के अन्य धार्मिक व पर्यटन स्थलों में हर दृष्टि से बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करानी होंगी।

बैठक में प्रमुख सचिव आर. के सुधांशु, विशेष प्रमुख सचिव अभिनव कुमार, सचिव दिलीप जावलकर, अपर सचिव सी. रविशंकर, प्रमुख अभियंता लोक निर्माण विभाग अयाज अहमद, लोक निर्माण विभाग एवं पर्यटन विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

किसान पथ और अग्नि पथ एक है, इसलिए देशभर में दोनों को लेकर एक साथ संघर्ष किया जाएगा: राकेश टिकैत

देहरादून: अग्निपथ योजना के विरोध में भारतीय किसान यूनियन टिकैत गुट के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने अपना एक बयान जरी किया हैंI उन्होंने कहा कि किसान पथ और अग्नि पथ एक है। इसलिए देशभर में दोनों को लेकर अब एक साथ संघर्ष किया जाएगा। किसानों के बच्चे ट्रैक्टर लेकर […]