मुख्यमंत्री ने किया दुग्ध मूल्य प्रोत्साहन योजना का शुभारंभ

Ghughuti Bulletin

देहरादून: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को आई.आर.डी.टी ऑडिटोरियम, सर्वे चौक, देहरादून में दुग्ध विकास विभाग के अंतर्गत संचालित दुग्ध मूल्य प्रोत्साहन योजना का शुभारंभ किया एवं योजना के अंतर्गत दुग्ध उत्पादकों को डी.बी.टी के माध्यम से दुग्ध मूल्य प्रोत्साहन राशि का भुगतान किया।

इस दौरान मुख्यमंत्री द्वारा मैदानी क्षेत्रों के दुग्ध समितियों के सचिव हेतु 50 पैसा प्रति लीटर दूध में प्रोत्साहन राशि एवं पर्वतीय क्षेत्रों में दुग्ध समितियों के सचिवों हेतु ₹1 प्रति लीटर दूध में प्रोत्साहन राशि बढ़ाए जाने की घोषणा भी की। दुग्ध मूल्य प्रोत्साहन राशि को ₹4 प्रति लीटर से बढ़ाकर ₹5 प्रति लीटर किए जाने की घोषणा की साथ ही हल्द्वानी में दुग्ध विकास विभाग के निदेशालय हेतु जल्द से जल्द धनराशि जारी करने की घोषणा की।

मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि दूध उत्पाद काश्तकारों से जुड़ी हर समस्या का समाधान सभी विभागों के साथ समन्वय बनाकर किया जा रहा है। उन्होंने कहा आज इस दूध मूल्य प्रोत्साहन योजना से करीब 53000 लोगों को सीधे सीधे लाभ होगा। कहा यह राशि डी बी टी के माध्यम से सीधे लाभार्थियों के खातों में जाएगी, उन्होंने कहा इस तरह की योजना आने वाले समय में मील का पत्थर साबित होगी।

उन्होंने आगे कहा कि राज्य सरकार प्रधानमंत्री मोदी के मंत्र सबका साथ सबका विकास एवं सबके विश्वास के साथ लगातार हर क्षेत्र में आगे बढ़ रही है। कहा दुग्ध क्रांति के क्षेत्र में हम सभी की सामूहिक भूमिका है और आने वाले 25 वर्ष में दुग्ध बागवानी एवं पशुपालन जैसे हर क्षेत्र में उत्तराखंड देश में नंबर वन बने इसके लिए सरकार प्रयासरत है। उन्होंने कहा उत्तराखंड के विकास यात्रा हम सभी की सामूहिक यात्रा है। उन्होंने यह भी कहा कि दूध उत्पादों से जुड़े प्रत्येक व्यक्ति की समस्या का समाधान करना हमारी सरकार की प्राथमिकता है और आने वाले समय में सरकार दूध विकास विभाग के साथ समन्वय कर इससे जुड़े लोगों को प्रशिक्षण देगी जिससे आने दूध उत्पादन बढ़ाए जाने पर सरलता मिलेगी।

कैबिनेट मंत्री रेखा आर्या ने कहा कि हम सभी आपसी तालमेल एवं सहयोग से उत्तराखंड में श्वेत क्रांति लाएंगे। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि उनका विभाग लगातार नई योजना धरातल में उतारने का काम कर रहा है ताकि दुग्ध उत्पाद क्षेत्र में प्रदेश आत्मनिर्भर, सामाजिक एवं आर्थिक रूप से सक्षम बने। विभिन्न जिलों से आए दुग्ध विकास समिति के अध्यक्षों का धन्यवाद करते हुए उन्हें और लगन और धरातल में उतर कर कार्य करने हेतु प्रेरित किया।

इस दौरान सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम एवं अन्य लोग मौजूद रहे।

        

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

दुखद: नहीं रहे देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ, जनरल बिपिन रावत

देहरादून: बुधवार को वयुसेना के हेलीकॉप्टर क्रैश हो जाने से चीफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत व उनकी पत्नी समेत 13 लोगों की मौत हो गई है। इस दुखद घटना की वायुसेना के प्रवक्ता ने पुष्टि की है घटना के मुताबिक तमिलनाडु के कुन्नूर में वायुसेना का हेलीकॉप्टर क्रैश हो […]