कोरोनाः मुआवजे का फर्जी फॉर्म वायरल, प्रशासन ने दिए जांच के आदेश

Ghughuti Bulletin

देहरादून:  कोरोना के विकट दौर में जालसाज ऐसे शोकाकुल परिवारों को भी ठगने की फिराक में हैं, जिन्होंने इस महामारी के कारण अपने स्वजन को खोया है। ऐसे परिवारों को झांसे में लेने के लिए जालसाज एक फॉर्म भेज रहे हैं, जिसमें कोरोना से मृत्यु होने पर संबंधित के स्वजन को चार लाख रुपये मुआवजा देने की बात कही गई है।

अच्छी बात यह है कि अभी तक इस फॉर्म के जरिये किसी भी व्यक्ति से ठगी की जानकारी सामने नहीं आई है। लेकिन, प्रशासन ने ऐसी गतिविधियों से सभी को सतर्क रहने के लिए कहा है। प्रशासन का कहना है कि अगर किसी व्यक्ति के पास इस तरह का फॉर्म आता है तो वह उस पर आवेदन करने की जगह प्रशासन या पुलिस से शिकायत करे।

बता दें कि, कोरोना से मृत्यु होने पर सरकार ने संबंधित व्यक्ति के स्वजन को चार लाख रुपये की मुआवजा राशि देने का कोई प्रविधान नहीं किया है। जिलाधिकारी देहरादून डॉ. आशीष श्रीवास्तव ने फॉर्म को फर्जी बताया है। उन्होंने कहा कि प्रकरण की जांच के आदेश दिए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

परिवहन नियमों में बड़ा संशोधनःनिजि वाहन में चार साल से उपर का बच्चा माना जाएगा पूरी सवारी

देहरादून: केंद्रीय परिवहन मंत्रालय की ओर से सड़क सुरक्षा से जुड़े नियमों में एक बड़ा संशोधन किया गया है। अब अगर माता-पिता के साथ मोटरसाइकिल पर 4 साल से अधिक उम्र का बच्चा बैठा हुआ पाया गया तो उसे तीसरी सवारी माना जाएगा। साथ ही इसके खिलाफ मोटर व्हीकल अधिनियम […]