भीख मांगने वाले बच्चों की पुलिस करेगी काउंसलिंग

पौड़ी:  जिले में छोटे बच्चे भिक्षावृत्ति का शिकार हो रहे हैं। ये बच्चे अभी तक छोटे कस्बों में पहुंचकर भीख मांगा करते थे, लेकिन अब ये शहरों में भी भीख मांगते हुए दिखाई दे रहे हैं। जिसके बाद पुलिस महकमा अब हरकत में आ गया है।

पुलिस प्रशासन की ओर से भीख मांगने वाले इन मासूमों को शिक्षा का अधिकार दिलाने की कवायद शुरू कर दी गई है। एसएससी ने निर्देश दिए हैं कि अगर किसी जगह पर भीख मांगते हुए बच्चे मिलें तो उनकी काउंसलिंग की जाए और उन्हें विद्यालयों में पढ़ाया जाए।

दरअसल पौड़ी में छोटे बच्चों को काफी समय से भीख मांगते हुए देखा जा रहा है. लेकिन इसकी जानकारी किसी को नहीं है कि ये किसके बच्चे हैं और कहां से आए हैं।

वहीं, स्थानीय लोगों ने बताया कि यह बच्चे कस्बों के अलावा अब पौड़ी शहर में भी भीख मांगते नजर आ रहे हैं। साथ ही ये कहीं न कहीं चोरी की वारदातों को भी अंजाम देने लगे हैं।

लोगों का कहना है कि इन बच्चों को भिक्षावृत्ति से दूर कर सुरक्षित स्थान पर रखा जाना चाहिए और जल्द से जल्द उनके परिजनों को ढूंढ़ कर उनके सुपुर्द करना चाहिए।

एसएससी पी रेणुका देवी ने बताया कि अब तक पौड़ी में ऐसे बच्चों को रखने के लिए कोई उचित स्थान नहीं बन पाया है। लेकिन अब पुलिस प्रशासन की ओर से उनको रखने के लिए उचित स्थान की व्यवस्था की जाएगी और वहां रखकर उनकी काउंसलिंग की जाएगी।

साथ ही उनके परिजनों का पता लगाकर उन्हें शिक्षा का अधिकार दिलाया जाएगा. ताकि उनका भी भविष्य उज्ज्वल हो सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

रणवीर सिंह चैहान बने अपर सचिव सूचना व महानिदेशक सूचना

देहरादून:  राज्य शासन ने एक आईएएस और एक पीसीएस अधिकारी के दायित्वों में फेरबदल किया है। आईएएस रणवीर सिंह चैहान को अपर सचिव सूचना व महानिदेशक सूचना बनाया गया है। अभी तक अपर सचिव सूचना व महानिदेशक सूचना का दायित्व डा. मेहरबान सिंह बिष्ट के पास था। डा. बिष्ट के […]