दोस्त को बचाने के लिए बेटी ने अपने ही पिता पर लगाया दुष्कर्म का आरोप

Ghughuti Bulletin

देहरादून: दोस्त को बचाने के लिए बेटी ने अपने पिता पर दुष्कर्म का आरोप लगाया। बेटी द्वारा लगाए गए इस कलंक से कोर्ट ने पिता को बरी कर दिया है। कोर्ट का मानना है कि पीड़िता ने अपने पिता से नफरत के चलते यह आरोप लगाया था। विशेष जज पॉक्सो मीना देऊपा की कोर्ट ने पिता को संदेह का लाभ देते हुए बाइज्जत बरी कर दिया हैं।

बचाव पक्ष के अधिवक्ता आशुतोष गुलाटी ने बताया कि ऋषिकेश कोतवाली में जुलाई 2020 को मुकदमा दर्ज हुआ था। शुरुआत में पीड़िता के पिता ने दो युवकों के खिलाफ दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया था। उन्होंने बताया था कि इन युवकों ने नशीला पदार्थ खिलाकर उनकी बेटी के साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल और फिर मजिस्ट्रेटी बयान दर्ज कराया था|

इस दौरान युवती अपने मौखिक बयानों से पलट गई। उसने आरोपियों में से एक युवक को अपना दोस्त बताया। पीड़िता ने बताया था कि वह उससे शादी करना चाहती है। साथ ही पीड़िता ने अपने पिता पर आरोप लगाया कि वह उससे कई महीनों से दुष्कर्म करता आ रहा है। इसके बाद अब वह इन युवकों को फंसाने की बात कर रहा था। इन बयानों के बाद पुलिस ने पीड़िता के पिता को ही दुष्कर्म का आरोपी मानते हुए न्यायालय में चार्जशीट दाखिल की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

दो आल्टो कार में हुई टक्कर,कार सवार तीन महिला समेत पांच लोग घायल

देहरादून: सरनाड के पास हिमाचल की नंबर वाली दो आल्टो कार की टक्कर हो गई I टक्कर के दौरान कार सवार तीन महिला समेत पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। सीमांत तहसील से जुड़े जेपीआरआर हाईवे पर नया बाजार त्यूणी से करीब दो किमी आगे सरनाड के पास […]