अतिक्रमण के खिलाफ सिंगल मंडी में धरना

Ghughuti Bulletin

देहरादून:  आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता योगेन्द्र चैहान के नेतृत्व में दर्जनों लोगों ने रेलवे प्रशासन के खिलाफ सिंगल मंडी धरना दिया।
आप प्रवक्ता योगेन्द्र चैहान ने बताया कि विगत 3 वर्षों से देहरादून के सिंगल मंडी इलाके में रेलवे लाईन के समीप रेलवे द्वारा दीवार बनाने का काम किया जा रहा है जिसमें मानकों को पूरी तरह ताक पर रखा गया है।

उन्होंने बताया कि 1938 के नक्शे के मुताबिक रेलवे की जमीन पटरी के पार 80 फीट जबकि दूसरी तरफ 40 फीट है। लेकिन रेलवे 40 फीट से अधिक 60 फीट तक अपनी जमीन बता कर इस पर निर्माण करवा रहा है, जिससे स्थानीय लोगों का रास्ता महज 12 फीट ही रह गया है। जबकि इस रास्ते से कई बस्तियों का रास्ता जाता है जहां की आबादी लगभग 8 से 9 हजार की है।

उन्होंने कहा कि सिंगल मंडी से लगा हुआ कुसुम विहार और तेलबगीचा है, जिसकी कुल आबादी 8 से 9 हजार के लगभग है। रेलवे की मनमानी की वजह से ये सभी लोग इससे प्रभावित हो रहे हैं और आने वाले समय में यहां के लोगों को पटरी के नजदीक ही जीने को मजबूर होना पडेगा। जहां कभी भी कोई हादसा हो सकता है।

आप प्रवक्ता ने कहा कि डेढ़ वर्ष पूर्व उनके द्वारा यहां निर्माण कार्य रुकवाया गया था। जिलाधिकारी दून को ज्ञापन दिया था। जिसके बाद जिलाधिकारी ने इस मामले की जांच तहसीलदार को दी थी। लेकिन आज तक उस जांच का कोई अता पता नहीं है।

उन्होंने बताया कि जिस नक्शे के आधाार पर स्थानीय लोग रेलवे से अपना हक मांग रहे हैं ,वही नक्शा नगर निगम और एमडीडीए के पास भी है। लेकिन रेलवे अपने ठेकदारों से जबरन अवैध निर्माण करवा रहा है। जिसका सभी स्थानीय लोग और आप पार्टी विरोध करती है।

उन्होंने बताया कि पूरा शहर स्मार्ट सिटी में तब्दील हो रहा है,और सभी जगह 1938 के नक्शे के आधार पर निर्माण हो रहा है लेकिन यहां पर रेलवे नए नक्शे के आधार पर निर्माण करवा रहा है। जिससे यहां के लोगों का रास्ता बंद होने के साथ भविष्य में लोगों के घर टूटने का खतरा बढ़ गया है।

इस दौरान राजेश कश्यप, सीमा रावत, सुनील रावत,श्यामला, रवि, अमित, पप्पू, पंकज, गणेश, बबली, रीना, लक्ष्मी, सुमन, संजय, चन्द्रकला, किरन, बाबूलाल आदि धरने पर बैठे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

ईपीएफओ को मिला 95 कार्मिकों का ब्योरा

देहरादून: ईपीएफओ चमोली में आई जलप्रलय में हताहत हुए ऋषिगंगा और तपोवन-विष्णुगाड बिजली परियोजना के कार्मिकों की जानकारी जुटा रहा है। वहीं क्षेत्रीय आयुक्त ईपीएफओ के अनुसार जलप्रलय में हताहत जो कर्मचारी ईपीएफओ में पंजीकृत होंगे उनकी जानकारी मिलते ही परिजनों के लिए तत्काल नियमानुसार पीएफ की राशि आदि देने […]