किसान आंदोलन हिंसा प्रकरण को लेकर किसानों और कांग्रेस जिलाध्यक्ष को नोटिस

देहरादून:   26 जनवरी को किसान आंदोलन के दौरान हुई हिंसा को लेकर दिल्ली पुलिस का एक्शन जारी है। मामले में डोईवाला के नागल बुलंदावाला के किसानों और कांग्रेस के जिलाध्यक्ष गौरव चैधरी को दिल्ली पुलिस ने सीआरपीसी के सेक्शन 160 के तहत नोटिस जारी किया है।

यह नोटिस नारकोटिक्स सेल क्राइम ब्रांच ओल्ड कोतवाली पुलिस स्टेशन बिल्डिंग दरियागंज की ओर से भेजा गया है। मामले में आरोपी पक्ष को 22 फरवरी को पूछताछ के लिए दिल्ली बुलाया गया है।

दिल्ली पुलिस द्वारा भेजे गए नोटिस में लिखा गया है कि 26 जनवरी 2021 को गणतंत्र दिवस पर आर्म्स एक्ट 20 के तहत विरोध कर रहे आंदोलनकारी किसान ट्रैक्टर परेड के दौरान आरटीओ पहुंच गए।

जहां किसानों द्वारा सार्वजनिक संपत्ति को क्षति पहुंचाई गई और कानून व्यवस्था के लिए ड्यूटी कर रहे पुलिस कर्मियों पर भी हमला किया गया। वहीं, नोटिस मिलने पर किसान गौरव चैधरी ने बताया कि वे किसानों की लड़ाई लड़ते रहेंगे और तीनों काले कानूनों के खिलाफ किसानों के साथ खड़े हैं।

जब तक तीनों काले कानून केंद्र सरकार वापस नहीं लेती वे अपना संघर्ष जारी रखेंगे। वहीं, गौरव चैधरी ने बताया कि उन्होंने दिल्ली में जाकर किसानों की लड़ाई में अपना योगदान दिया है।

अन्नदाता की इस लड़ाई में वे शांतिपूर्ण तरीके से अपनी भागीदारी अदा कर रहे हैं। सरकार नोटिस भेजकर उन्हें परेशान और दबाने का प्रयास कर रही है। लेकिन वह किसानों के दर्द को समझते हैं और हमेशा किसानों की इस लड़ाई में उनके साथ खड़े रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

डिस्पेंसरी का पुनर्निर्माण न होने से लोगों में रोष

देहरादून:  नगर पालिका मसूरी द्वारा संचालित डिस्पेंसरी भवन का डेढ़ साल बीत जाने के बाद भी पुनर्निर्माण नहीं हुआ है। स्थानीय लोगों ने डिस्पेंसरी भवन की मांग को लेकर पालिका को पत्र लिखा था, लेकिन आज तक पालिका ने पत्र का संज्ञान नहीं लिया। जिससे लोगों में खासा आक्रोश है। […]