नकली सैनिटाइजर की आशंका, गोदाम सील, जांच के लिए भेजे स्प्रे

रुद्रपुर: कुमाऊं एसटीएफ व स्थानीय पुलिस द्वारा वाहन चेकिंग के दौरान एक कार में नकली सैनिटाइजर होने की आशंका के चलते कार और गोदाम को सील कर दिया. मामले की जांच शुरू कर दी है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा मामले की जांच की जा रही है। पकड़ा गया माल हल्द्वानी सप्लाई किया जा रहा था।

कुमाऊं एसटीएफ द्वारा एक कार और गोदाम से नकली सैनिटाइजर होने की आशंका पर भारी मात्रा में सैनिटाइजर को कब्जे में लिया गया है। जानकारी के मुताबिक स्पेशल टास्क फोर्स को सूचना मिली थी कि नकली सैनिटाइजर की खेप हल्द्वानी सप्लाई की जा रही है।

इस पर एसटीएफ के कुमाऊं प्रभारी एमपी सिंह ने ड्रग्स इंस्पेक्टर सुधीर कुमार को अवगत कराया। जिसके बाद पुलिस और एसटीएफ की अलग-अलग टीमों ने एसटीएफ प्रभारी एमपी सिंह, एसआई केजी मठपाल, ट्रांजिट कैंप एसओ विनोद फर्त्याल के नेतृत्व में नैनीताल रोड पर वाहनों की चेकिंग शुरू की।

इस दौरान एक कार को रोकने पर उसमें 20 केन सैनिटाइजर बरामद हुआ। पूछताछ में कार सवारों ने बताया कि सैनिटाइजर हल्द्वानी सप्लाई किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि उनका गोदाम ट्रांजिट कैंप शिमला बहादुर में है।

इस पर एसटीएफ और पुलिस ने शिमला बहादुर स्थित गोदाम में छापामार कार्रवाई कर सैंपल के लिए चार पेटी सैनिटाइजर स्प्रे कब्जे में लेते हुए जांच के लिए भेज दिया है। गोदाम में रखा माल सीज कर दिया है। घटना की सूचना पर सीओ सिटी अमित कुमार भी मौके पर पहुंचे ओर सम्बन्धित मामले में जानकारी ली।

एसटीएफ प्रभारी एमपी सिंह ने बताया कि सौनिटाइजर नकली होने की आशंका के चलते गोदाम को सील कर दिया है। साथ ही 20 केन और चार पेटी स्प्रे सैनिटाइजर को जांच के लिए भेजा जा रहा है। सैनिटाइजर की खेप असली है या नकली इसकी जांच स्वास्थ्य विभाग द्वारा की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

निजी स्वास्थ्य संस्थानो को वैक्सीन खरीदने की छूट की उम्मीद

देहरादून:  उत्तराखंड में कोविड-19 संक्रमण पर रोकथाम के लेकर सरकार ने महत्वपूर्ण आदेश जारी किए हैं। राज्य सरकार द्वारा महामारी को लेकर जरूरी सुझाव समिति का गठन किया गया है। साथ ही संक्रमित मरीजों के ठीक होने के बाद मानसिक रोग से प्रभावित होने पर मनोचिकित्सकों की व्यवस्था करने से […]