राज्यपाल कोश्यारी ने रैणी आपदा को बताया दुर्भाग्यपूर्ण

देहरादून:  मसूरी में महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने एलबीएस अकादमी में आयोजित कार्यक्रम में शिरकत की। कार्यक्रम के बाद राज्यपाल शहर के होटल सवॉय पहुंचे। इस दौरान राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने रैणी गांव की आपदा को दुर्भाग्यपूर्ण बताया। एलबीएस अकादमी में आयोजित कार्यक्रम में भाग लेने आज महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी एलबीएस अकादमी पहुंचे।

आईएएस अधिकारियों से मुलाकात के दौरान कोश्यारी ने कई विषयों पर उनसे बातचीत की। करीब एक घंटा अकादमी में गुजारने के बाद राज्यपाल ने मसूरी के ही सवॉय होटल में आयोजित एक कार्यक्रम में शिरकत की। जहां उन्होंने रैणी गांव की आपदा को दुखद बताया। उन्होंने कहा देवभूमि में देवताओं का वास है।

जैसे देवाताओं से दैत्यों का संघर्ष होता रहता था उसी तरह देवभूमि का भी दैवीय आपदाओं से सामना होता रहता है। भगत सिंह कोश्यारी ने कहा कि हम सभी बहादुरी के साथ इस तरह की आपदाओं का सामना करते हैं। उन्होंने कहा ऐसी दर्दनाक घटनाओं के बाद हर एक का दिल पसीजता है।

उन्होंने रैणी गांव की आपदा से निपटने के लिए केंद्र और राज्य सरकार की सराहना की। उन्होंने कहा कि जिस त्वरित गति से आपदाग्रस्त इलाके में राहत और बचाव कार्य शुरू किये गये वह बेहद की तारीफ-ए-काबिल है। भगत सिंह कोश्यारी ने कहा सभी के सामूहिक प्रयास से इस तरह की आपदाओं से निपटा जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

ऋषिगंगा झील से हो रहे रिसाव का होगा आंकलन, टीम रवाना

देहरादून: चमोली आपदा के बाद तपोवन में रेस्क्यू ऑपरेशन युद्ध स्तर पर जारी है। अब 14 हजार फीट की ऊंचाई वाले ऋषिगंगा पर्वत से निकलने वाली नदी के मुहाने पर झील बनने से एक बार फिर बाढ़ के खतरे की स्थिति पैदा होती नजर आ रही है। बीते गुरुवार से […]