फिर से सीएम चेहरा घोषित करने की मांग

हल्द्वानी:  विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस के अंदर नेतृत्व को लेकर सियासी घमासान मचा हुआ है। इस बीच एक बार फिर से पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने विधानसभा चुनाव से पहले चेहरा घोषित करने की मांग आलाकमान से की है। हरीश रावत का कहना है कि उत्तराखंड की जनता और कांग्रेस हित के लिए ये जरूरी है कि विधानसभा चुनाव किसी के चेहरे पर लड़ा जाए। इससे पार्टी की नीति और नीयत भी स्पष्ट हो जाएगी।

हरीश रावत ने कहा कि चेहरा घोषित करने से पार्टी को भाजपा के खिलाफ मजबूती मिलेगी। हरीश रावत ने कांग्रेस के बड़े नेताओं पर दबी जुबान में हमला किया। उन्होंने कहा जिसका मन नेतृत्व पर चुनाव ना लड़ने का है उसके लिए आलाकमान आगे फैसला करेगा।

बता दें कि हरीश रावत उत्तराखंड में 2022 के विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित करने की लगातार पैरवी कर रहे हैं। उत्तराखंड में अगले साल की शुरुआत में विधानसभा चुनाव होने हैं, जिसे लेकर अभी से राजनीतिक हलचलें तेज हो गई हैं

। कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत लगातार पार्टी से आगामी विधानसभा चुनाव के लिए किसी नेता को सेनापति घोषित करने की मांग कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

देश में नापसंद के मामले में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री नम्बर 1 सर्वे रिपोर्ट का खुलासाः आप

देहरादून:  आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एसएस कलेर ने प्रदेश कार्यालय में एक पीसी करते हुए कहा, आदमी पार्टी लगातार उत्तराखंड की जनता को ये बताते आ रही थी कि उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत जीरो वर्क सीएम हैं इन्होंने अपने पिछले चार सालों में जनहित के कोई काम […]