फोन टैपिंग मामले में केंद्र सरकार पर हमलावर हुई कांग्रेस, देहरादून में किया राजभवन कूच

Ghughuti Bulletin

-उत्तराखंड के हर जिले में किया प्रदर्शन

-पुलिस ने कार्यकर्ताओं को लिया हिरासत में

देहरादून:  कांग्रेस लगातार फोन टैपिंग मामले को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधने में लगी है। देहरादून में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के नेतृत्व में राजभवन कूच किया। लेकिन पुलिस ने कार्यकर्ताओं को हाथीबड़कला में बैरिकेडिंग लगाकर रोक दिया।

इसी कड़ी में हल्द्वानी में भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने फोन टैपिंग मामले को लेकर केंद्र सरकार का पुतला दहन किया। साथ ही सरकार से जासूसी बंद करने और उचित कार्रवाई की मांग की है।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार को चेतावनी दी है कि जल्द ज्वाइंट पार्लियामेंट्री कमेटी के माध्यम से जांच कराई जाए। वहीं, रामनगर में भी फोन टैपिंग मामले को लेकर युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने युवा कांग्रेस के प्रदेश महासचिव तनुज दुर्गापाल के नेतृत्व में रानीखेत रोड पर केंद्र सरकार का पुतला दहन किया। साथ ही जमकर नारेबाजी की।

उत्तराखंड में भी लगातार कांग्रेस फोन टैपिंग मामले को लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधने में लगी है। देहरादून में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने राजभवन का कूच किया। पुलिस ने बैरिकेडिंग लगाकर उन्हें रोक दिया। जिसके बाद नाराज प्रदर्शनकारी धरने पर बैठ गए और केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उन्होंने गृह मंत्री अमित शाह के इस्तीफे की मांग की। जिसके बाद पुलिस ने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह समेत कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया और पुलिस लाइन भेज दिया।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह का कहना है कि सत्ता में बैठे लोगों के इशारे पर इस देश को कमजोर किया जा रहा है। देश के लोकतंत्र पर प्रहार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हमारे नेता राहुल गांधी और उनके स्टाफ की जासूसी करवाई जा रही है। सत्ता में बैठे हुए लोगों के इशारे पर पत्रकारों और कई केंद्रीय मंत्रियों की जासूसी की जा रही है। ऐसे में अगर जरा सी भी नैतिकता इस देश के गृहमंत्री में है तो उन्हें तत्काल अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।उन्होंने भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि वैसे तो इस सरकार में नैतिकता बची नहीं है। इसलिए राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी के आह्वान पर सभी कांग्रेस जनों ने इस जासूसी प्रकरण के खिलाफ राज्यपाल आवास घेराव करने का निर्णय लिया है।

वहीं, हल्द्वानी में भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने फोन टैपिंग मामले को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए पुतला दहन किया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार को चेतावनी दी है कि जल्द जेपीसी के माध्यम से मामले की जांच कराई जाए।

प्रदेश महासचिव युवा कांग्रेस तनुज दुर्गापाल ने कहा कि मौजूदा सरकार ने भारत के संविधान द्वारा प्रदत्त प्रत्येक नागरिक के मौलिक अधिकार का हनन किया है। यह सरकार विदेशी हाथों की कठपुतली है, उन्होंने कहा कि ऐसी सरकार को 2022 में देश की जनता भारी बहुमत से हराकर अपना रोष प्रकट करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

कुंभ टेस्टिंग घोटाले में हुई पहली गिरफ्तारी, एसआईटी ने नलवा लैब के बिचौलिये को किया गिरफ्तार

हरिद्वार:  कुंभ कोरोना टेस्ट फर्जीवाड़े में एसआईटी ने गुरुवार को पहली गिरफ्तारी की है। यह गिरफ्तारी हिसार के नलवा लैब के एक बिचौलिये की बताई जा रही है। इसी ने कुंभ मेले के दौरान नलवा लैब को मैन पावर और अन्य साजो सामान उपलब्ध कराया था। सूत्रों से मिली जानकारी […]