सोमेश्वर में मकान गिरने से एक महिला की मौत, तीन घायल

Ghughuti Bulletin

सोमेश्वर:  गोलने-सुतोली में एक मकान बुधवार आधी रात में अचानक गिर गया। हादसे में एक महिला की मौत हो गई। जबकि 3 लोग मलबे में दबकर घायल हो गए। जिसमें से तीन लोगों का उपचार चल रहा है। ग्राम प्रधान ने पुलिस को घटना की जानकारी दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से परिवार के अन्य सदस्यों को मलबे से बाहर निकाला। पुलिस ने पंचनामा भरकर शव को पोस्टमॉर्टम के लिए अल्मोड़ा भेजा है।

बता दें कि, लोद घाटी की ग्राम पंचायत सुतोली में बुधवार की रात एक मकान अचानक भरभरा कर गिर गया। जिसमें 3 लोग घायल हो गए और एक महिला की मौत हो गई। गंभीर रूप से घायल भवन स्वामी को हायर सेंटर रेफर किया गया है। जबकि दो नाबालिगों को प्राथमिक उपचार देने के बाद घर भेज दिया गया है। बता दें कि, प्रकाश राम की मां और एक बच्ची अन्य कमरे में सोए हुए थे, जिस कारण उन्हें कोई चोटें नहीं आई हैं।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत गोलने के सुतोली में बीती रात प्रकाश राम पुत्र मदन राम का मकान अचानक गिर गया। घटना के समय मकान में प्रकाश राम, पत्नी राधा देवी, 3 बच्चे और प्रकाश की मां सोई हुई थी। अचानक मकान का मलबा प्रकाश राम, पत्नी राधा देवी, बच्चा रवि कुमार (3) और बच्ची महक (1) के ऊपर गिर गया और वो मलबे में दब गए।ग्राम प्रधान गोविंद राम ने पुलिस प्रशासन को घटना की जानकारी दी। ग्रामीणों और पुलिस की टीम ने मलबे में दबे परिवार के सभी 6 सदस्यों को कड़ी मशक्कत कर बाहर निकाला। घटना के समय मकान में 3 मवेशी भी बंधे हुए थे। जिनमें से एक गाय बुरी तरह मलबे में दब गई। जिसे रेस्क्यू किया गया।

थानाध्यक्ष राजेंद्र सिंह बिष्ट ने बताया है कि सूचना मिलने पर तत्काल पुलिस की टीम को मौके पर भेजा गया। साथ ही चिकित्साधिकारी डॉ. आनंद नारायण तिवारी की टीम ने मौके पर पहुंचकर घायलों को प्राथमिक उपचार दिया। इसके बाद घायलों को 108 एंबुलेंस के माध्यम से पीएचसी सोमेश्वर भेजा गया। जहां उपचार के दौरान राधा देवी (25) ने दम तोड़ दिया। जबकि भवन स्वामी प्रकाश राम को गंभीर चोटें आई हैं। जिसे हायर सेंटर रेफर किया गया है। घायल बच्चों को उपचार के बाद घर भेज दिया गया है।

प्रशासन से की पीड़ितों को मुआवजा देने की मांग
सोमेश्वर। ग्राम प्रधान गोविंद राम का कहना है कि प्रकाश राम का परिवार गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करता है। इस दर्दनाक घटना से उसके परिवार सहित पूरे गांव में मातम पसरा हुआ है। उन्होंने शासन प्रशासन से पीड़ित परिवार को अति शीघ्र मुआवजा दिए जाने की मांग की है। इधर थानाध्यक्ष राजेंद्र सिंह बिष्ट ने यह भी जानकारी दी है कि मृतक राधा देवी के शव का पंचनामा भरकर पोस्टमॉर्टम के लिए अल्मोड़ा भेजा गया है। घटनास्थल पर रात्रि में ही तहसीलदार अक्षय भट्ट राजस्व टीम के साथ पहुंचे। उन्होंने मौका मुआयना किया और घटना का जायजा लिया। उनका कहना है कि पीड़ित परिवार को त्वरित सहायता यह जाने की कार्रवाई की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

ट्विटर ने ब्लॉक किया कांग्रेस महासचिव हरीश रावत का अकाउंट

देहरादून: उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत का ट्विटर अकाउंट ब्लॉक किया गया है। पूर्व सीएम ने सोशल मीडिया में एक पोस्ट लिखकर खुद इस बात की जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में अभिव्यक्ति की आजादी छीनी जा रही है। उन्होंने लिखा है कि लोकतंत्र में मुझे चुप […]