20 बेड का मिनी मिलिट्री अस्पताल जनता को सौंपा

देहरादून:  केदारनाथ आपदा के बाद पुनर्निर्माण में अहम भूमिका निभाने वाले कर्नल अजय कोठियाल के प्रयासों से जनता को मिनी मिलिट्री हॉस्पिटल समर्पित किया गया है। बता दें कि प्रदेश में कोरोना महामारी के साथ ही ब्लैक फंगस के मरीजों को मिलना भी निरंतर जारी है। ऐसे में मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं से युक्त मिनी मिलिट्री हॉस्पिटल की शुरुआत की गई है।

ताकि इस संक्रमण काल में गरीब लोगों का इलाज निशुल्क किया जा सके। सेवानिवृत्त कर्नल अजय कोठियाल ने कोरोना महामारी से लड़ने के लिए उत्तराखंड की जनता को 20 बेड का सभी सुविधाओं से युक्त मिनी मिलिट्री हॉस्पिटल समर्पित कर दिया है। इसमें मरीजों का सारा इलाज निशुल्क किया जाएगा।

कर्नल अजय कोठियाल और उनके सानिध्य में चलने वाले इस संगठन यूथ फाउंडेशन की ओर से इस हॉस्पिटल को तैयार करने के लिए युद्ध स्तर पर काम किया गया। यह अस्पताल देहरादून के शिमला बायपास रोड क्षेत्र में बनाया गया है।

कर्नल अजय कोठियाल का कहना है कि कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में आज सभी को आगे आने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि इसी संकल्प के साथ उन्हें इस अस्पताल को बनाने का हौसला आया।

उन्होंने अस्पताल की विशेषता बताते हुए कहा कि इस अस्पताल को सेना के मापदंडों के अनुरूप तैयार किया गया है। साथ ही इस अस्पताल में विशेषज्ञ चिकित्सकों के साथ ही कुशल मेडिकल स्टाफ की टीम भी तैनाती रहेगी।

जानकारी के मुताबिक उत्तराखंड प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग द्वारा अस्पताल के संबंध में जरूरी अनुमति प्रदान की जा चुकी है। रिटायर्ड कर्नल अजय कोठियाल का कहना है कि जल्द ही इस अस्पताल की तर्ज पर राज्य के अन्य शहरों में भी ऐसे अस्पताल तैयार किए जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

चार युवकों ने किया दर्जनों कोरोना पॉजिटिव मृतकों का अस्थि विसर्जन

हरिद्वार:  जहां इस कोरोनाकाल में लोगों ने अपनों का साथ छोड़ दिया। वहीं मानवता की मिसाल बने चार दोस्त कोरोना पॉजिटिवों का अंतिम संस्कार कर रहे है। इतना ही नहीं चारों दोस्तों ने मिलकर पूरे विधि-विधान के साथ अस्थियों को गंगा में विसर्जित भी किया। गुजरात वड़ोदरा से आए स्वजल […]