“कलश” संस्था द्वारा आयोजित कवि सम्मेलन में कवियों ने बांधा समा

Ghughuti Bulletin

देहरादून: सांस्कृतिक संस्था “कलश” द्वारा शनिवार को गढ़वाली कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। इस दौरान गढ़ावाल के जाने माने कवियों ने गढ़वाली रचनाएं सुनाकर खूब समा बांधा। वहीं हास्य रचना से मंच पर भी खूब ठहाके लगे।

राजधानी देहरादून के जोगीवाला स्थित एक बैंक्विट हाल में आयोजित इस कवि सम्मेलन में गढ़ रत्न नरेन्द्र सिंह नेगी समेत मुरली दीवान, गणेश खुगशाल, ओम बधाणी, गिरीश सुंन्द्रियाल, हरीश जुयाल, जगदंबा प्रसाद चमोला, बीना बेंजवाल, डा उमा भट्ट, उपासना सेमवाल जैसे पंसिद्ध रचनाकारों ने भाग लिया।

कवि गिरीश ने गढ़वाली गजल, तेरा सौं मिन तेरी धमेली पर फांस खाण, मरी जाण, पर खूब तालियां बटोरी, तो उमा भट्ट की रचना हमरू क्या, ने भी स्रोताओं को खूब हंसाया

इस दौरान संस्था द्वारा गढवाली भाषा के प्रचार प्रसार के लिए पत्रकार संजय किमोठी, किशोर रावत, प्रियंका रावत व रूचि नेगी को भी सम्मानित किया गयाI

मंच का संचालन ओम प्रकाश सेमवाल ने किया तो वहीं कार्यक्रम का आयोजन समाज सेवी संजय दरमोड़ा, राजेन्द्र सेमवाल, प्रेम सिंह बिष्ट, विनोद नेगी, मोहन वशिष्ट व दिग्पाल सिंह द्वारा करवाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

‘‘रैबार एक नये उत्तराखण्ड का’’कार्यक्रम को सीएम धामी ने बताया. देवभूमि का संदेश

देहरादून: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी शनिवार को गंगा रिजोर्ट ऋषिकेश में आयोजित रैबार एक नये उत्तराखण्ड कार्यक्रम में शामिल हुए। मुख्यमंत्री ने ‘‘रैबार एक नये उत्तराखण्ड का’’ कार्यक्रम को देवभूमि का संदेश बताते हुए इस आयोजन में हुए विचार मंथन को राज्य के विकास की संभावनाओं को दिशा देने वाला […]