जूनियर छात्रों के साथ दुर्व्यवहार के चलते 120 सीनियर छात्रों पर लगा 5000 रुपये का जुर्माना

Ghughuti Bulletin

देहरादून: राजकीय मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी में रैगिंग प्रकरण में एंटी रैगिंग कमेटी ने कहा कि एमबीबीएस प्रथम वर्ष के छात्रों के साथ रैगिंग नहीं हुई है। बल्कि पूरे घटनाक्रम को जूनियर छात्रों के साथ दुर्व्यवहार का मामला मानते हुए 120 सीनियर छात्रों पर 5-5 हजार रुपये जुर्माना लगाया है।

मेडिकल कॉलेज के एमबीबीएस प्रथम वर्ष के छात्रों के बाल काटने व कॉलेज में सिर झुकाकर लाइन में चलने के मामले में हाईकोर्ट ने कमिश्नर और डीआईजी को जांच के आदेश दिए थे। जिसके चलते शनिवार को मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य, सिटी मजिस्ट्रेट और एसपी सिटी के नेतृत्व में एंटी रैगिंग कमेटी की बैठक हुई।जिसमें कमेटी ने रैगिंग की घटना से इनकार किया है। इसके बाद 2020 बैच के सभी व हॉस्टल-बी में रहने वाले सभी सीनियर छात्रों पर 5-5 हजार रुपये का अर्थदंड लगाने का निर्णय लिया गया। प्राचार्य डॉ. अरुण जोशी ने बताया कि 4 अप्रैल तक सभी छात्रों को जुर्माना देना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

उतराखंड बोर्ड परीक्षा के दौरान लागू होगी धारा 144

देहरादून: उत्तराखंड विद्यालय शिक्षा परिषद रामनगर की ओर से 28 मार्च से 19 अप्रैल तक हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं कराई जानी है। जिसके चलते परीक्षाओं में कोई व्यवधान उत्पन्न हो इसके लिए केंद्र के आसपास शादी-समारोहों पर पाबंदी रहेगी। इसे अंतर्गत परीक्षा अवधि में न किसी भी आयोजन में […]