आपातकाल की बरसी को भाजपा ने बताया काला दिवस

Ghughuti Bulletin

-काली पट्टी बांधकर जताया विरोध

देहरादून: भारतीय जनता पार्टी ने आपातकाल की बरसी पर 25 जून को काला दिवस के रुप में मनाया।

आज ऋषिकेश में भाजपा के आला नेताओं सहित तमाम कार्यकर्ताओं ने आपातकाल की घटना को याद करते हुए भाजपा के कार्यकर्ताओं ने हाथ में काली पट्टी बांध कर अपना विरोध भी जाहिर किया।

आपातकाल की बरसी पर भारतीय जनता पार्टी ने काला दिवस मनाया। इस दौरान तीर्थ नगरी ऋषिकेश में इस घटना को याद करते हुए पार्टी कार्यकर्ताओं ने हाथ में काली पट्टी बांध कर अपना विरोध व्यक्त किया।

उस दौरान इंदिरा सरकार में लगाए गए आपात काल के विरोध में भाजपा की जिला इकाई ने त्रिवेणी घाट स्थित गांधी स्तंभ पर जिला मंत्री पंकज शर्मा के नेतृत्व में अपनी बांह पर काली पट्टी बांध कर सांकेतिक विरोध व्यक्त किया।

कार्यक्रम में प्रमुख रूप से मौजूद रहीं नगर निगम महापौर अनीता ममगाईं ने कहा कि 25 जून 1975 का दिन भारत के इतिहास में हमेशा काले दिन के तौर पर याद किया जाएगा।

महापौर ने कहा कि आपातकाल देश के इतिहास का काला दिन है।आज का ये दिन याद दिलाता रहेगा कि किस तरह कांग्रेस सरकार ने दमनकारी नीति के तहत लोगों में डर पैदा किया और अपनी सरकार बचाने के लिए मनमानी कर आपातकाल को आम जनता पर थोप दिया था।

भाजपा के जिला मंत्री पंकज शर्मा ने कहा कि आपातकाल के दौरान लोकतंत्र के लिए लड़ने वालों को देश कभी नहीं भूलेगा।

इस दौरान अनीता रैना, विजय बडोनी, चेतन शर्मा, अक्षय खैरवाल, प्रकांत कुमार, पवन शर्मा, मदन कोठारी, शरद तायल, नवल कपूर, विनोद शर्मा, अजय कालड़ा,  रमेश अरोड़ा, राजपाल ठाकुर, राजीव गुप्ता, अख्तर साबरी, रणवीर सिंह, रवि गुप्ता, रोमा सहगल, बबीता, गौरव कैंथोला आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने परखी कोविड वैक्सीनेशन की प्रगति

-प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों के साथ की वीडियो कांन्फ्रेंसिंग -तीसरी लहर को लेकर तैयार रहने के दिए आदेश देहरादून:  मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने शुक्रवार को सचिवालय में कोविड-19 महामारी के नियंत्रण एवं कोविड वैक्सीनेशन की प्रगति के सम्बन्ध में सभी जनपदों को वीडियो कांन्फ्रेस के माध्यम से समीक्षा की। […]