चारधाम यात्रा की एसओपी को हाईकोर्ट ने नकारा

Ghughuti Bulletin

नैनीताल:   हाईकोर्ट में सरकार की ओर से चारधाम यात्रा को लेकर जारी एसओपी को शपथ पत्र के साथ प्रस्तुत किया गया। कोर्ट ने कहा कि इस एसओपी में हरिद्वार जिले में पुलिस की तैनाती का जिक्र किया गया है, जिससे यात्रा को लेकर सरकार की गंभीरता जाहिर हो रही है।

कोर्ट ने एसओपी को हरिद्वार महाकुंभ की एसओपी की ही नकल बताते हुए स्वीकार करने से इनकार कर दिया। सरकार की ओर से पुजारियों व पुरोहितों के विरोध संबंधी दलील पर कोर्ट ने कहा कि उसे धार्मिक भावनाओं सहित जन स्वास्थ्य का भी पूरा ध्यान है।

कोर्ट ने कहा कि जब धार्मिक ग्रंथ लिखे गए थे, तब ऐसी कोई तकनीक थी ही नहीं जो इसे शास्त्रों में गलत बताया जाता। देश के प्रमुख मंदिरों से लाइव प्रसारण होता है।

कोर्ट ने कहा कि चुनिंदा लोगों, पुजारियों व पुरोहितों के हित के मुकाबले में कोरोना के डेल्टा प्लस वैरिएंट से लोगों की जिंदगी बचाना ज्यादा जरूरी है। सरकार को भी इस प्रकरण में व्यापक जनहित को प्राथमिकता देनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

देहरादून से नैनीताल गए टैक्सी चालक की हत्या, रामनगर की झाड़ियों में मिला शव

देहरादून:  रामनगर के पीरूमद्वारा की झाड़ियों में मिला शव देहरादून से नैनीताल गए टैक्सी चालक का निकला। मृतक टैक्सी चालक की शिनाख्त सलीम अहमद निवासी रिस्पना नगर नेहरू कालोनी देहरादून के रूप में उनके पुत्र उमेर रही ने की। पुलिस को दी तहरीर में मृतक के पुत्र उमेर ने बताया […]