गुलदार के हमले से एक व्यक्ति की मौत, लोगों ने की आदमखोर घोषित करने की मांग

Ghughuti Bulletin

कोटद्वार:  प्रखंड बीरोंखाल के अंतर्गत ग्राम भैंसोड़ा (जोगीमढ़ी) में गुलदार के हमले में एक व्यक्ति की मौत हो गई। ग्रामीणों ने गांव से करीब दो सौ मीटर दूर शव बरामद किया है। सूचना मिलने के बाद वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची है। ग्रामीण गुलदार को आदमखोर घोषित करने की मांग कर रहे हैं।

ग्राम भैंसोड़ा निवासी दिनेश चंद्र (38 वर्ष) पुत्र मोहन लाल गांव से कुछ दूर खेतों में शौच के लिए गया था। झाड़ियों में घात लगाए गुलदार ने उस पर हमला कर दिया।

गुलदार दिनेश को घसीटते हुए करीब सौ मीटर दूर झाड़ियों में ले गया। इधर, दिनेश के काफी देर तक वापस न लौटने पर स्वजनों को उसकी चिंता सताने लगी। स्वजनों ने अन्य ग्रामीणों के साथ मिलकर उसकी तलाश शुरू कर दी।

सुबह करीब 8।30 बजे गांव वालों को एक खेत के किनारे खून नजर आया। इस स्थान से थोड़ी दूरी पर दिनेश के चप्पल पड़े हुए थे। ग्रामीणों ने आसपास तलाश की तो झाड़ियों में दिनेश का क्षत-विक्षत शव पड़ा हुआ था।

ग्राम प्रधान सुरेंद्र ढौंडियाल ने इस बाबत वन विभाग को जानकारी दी। वन विभाग की टीम मौके पर पहुंच गई है। ग्रामीण वन विभाग से गुलदार को आदमखोर घोषित करने की मांग कर रहे हैं। साथ गांव के आसपास मौजूद झाड़ियों को साफ करने की भी मांग उठाई है।

ग्रामीणों का कहना है कि क्षेत्र में पिछले कई दिनों से गुलदार घूमता नजर आ रहा था। वन विभाग से गांव में पिंजरा लगाए जाने की मांग की जा रही थी, लेकिन विभाग ने इस ओर ध्यान नहीं दिया। वन विभाग, राजस्व विभाग व पुलिस की टीम ने मौके पर पहुंच कर व्यक्ति के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

वैक्सीन न लगाने पर डॉक्टर से मारपीट दो युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

ऋषिकेश:  मुनी की रेती के पूर्णानंद इंटर कॉलेज परिसर में वैक्सीन नहीं लगाने पर दो युवकों पर डॉक्टर से मारपीट और गाली-गलौज का आरोप लगा है। पुलिस ने शिकायत मिलने पर आरोपियों को मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तारी कर लिया है। मुनी की रेती थाना पुलिस के अनुसार सोमवार को दो […]