प्रत्येक जीवधारी की हमारी प्रकृति एवं पारस्थितिकी तंत्र में सुनिश्चित भूमिका: डॉ. मनीष कुकरेती

Ghughuti Bulletin

-समृद्ध पारस्थितिकी तंत्र की महत्व्पूर्ण कडी है वन्यजीव

गोपेश्वर/चमोली: सी पी भट्ट पर्यावरण एवं विकास केंद्र ने गुरुवार को पारस्थितिकी तंत्र में वन्य जीवों का महत्व विषय पर ब्याख्यान कार्यक्रम का आयोजन किया। उत्तराखंड में भूदान आंदोलन के अग्रणी रहे प्रसिद्ध गांधीवादी सर्वोदयी चिरंजी लाल भट्ट की स्मृति मे वन्यजीव संरक्षण सप्ताह के अवसर पर राम चंद्र भट्ट सरस्वती विद्या मंदिर में इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

इस दौरान कार्यक्रम को बतौर मुख्य वक्ता संबोधित करते हुए डॉ. मनीष कुकरेती ने छात्र. छात्राओं को बताया कि वन्य जीव हमारी पारस्थितिकी तंत्र के महत्वपूर्ण कड़ी एवं समृद्ध जैव विविधता के द्योतक हैं। उन्होंने कहा कि वन्य जीव हमारी पारस्थितिकी तंत्र के संतुलन को बनाये रखने के साथ ही खाद्य श्रृंखला एव खाद्य जाल के महत्व पूर्ण घटक एवं कढी है। प्रत्येक जीवधारी की हमारी प्रकृति एवं पारस्थितिकी तंत्र में सुनिश्चित भूमिका है। बताया कि इनमें से किसी के द्वारा सुनिश्चित भूमिका का उल्लंघन या अतिक्रमण होने व किसी पर्यावरणीय कारण से असन्तुलन पैदा होता है, तो पूरे पारस्थितिकी तंत्र पर विपरीत प्रभाव पड़ने लगता है।

डॉ. कुकरेती ने जानकारी देते हुए बताया कि वर्तमान में संपूर्ण विश्व में स्तनपायियों की कुल 512 तथा पक्षियों की 1990 प्रजातियाँ चिन्हित की गयी है। जिनमें से उत्तराखंड में स्तनपायियों की 106 पक्षियों की 620 तथा जलचर ;मछलियोंद्ध की 125 प्रजातियाँ पायी जाती हैं। उत्तराखंड के चमोली, रुद्रप्रयाग तथा पौडी जिले में पक्षियों की 302 प्रजातियों में से 17 प्रजातियां विलुप्ति के कगार पर पहुँच चुकी हैं। वहीं केदार नाथ वन प्रभाग क्षेत्र में प्रति वर्ष मुख्य रूप से 12 प्रवासी पक्षियां प्रवास पर आती है। उन्होेंने बताया कि विश्व के जैव विविधता की दृष्टि से चिन्हित 36 हॉट स्पॉट क्षेत्रों में से 3 हॉट स्पॉट भारत में हैं।

इसके अलावा कार्यक्रम के दौरान सी पी भट्ट पर्यावरण एवं विकास केंद्र द्वारा बद्री केदार विधानसभा से विधायक रहे कुंवर सिंह नेगी तथा पूर्व पालिका अध्यक्ष प्रेम बल्लभ भट्ट को उनके कार्यकाल में जनसरोकार के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य के लिए बापू सम्मान से सम्मानित किया गया। इसके साथ ही वन्य जीवों के महत्व पर आयोजित चित्रकला प्रतियोगिता मे उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले छात्र. छात्राओं कु दिव्यांशी, हिमानी बिष्ट व ओम नेगी को भी पुरस्कृत किया गया।

इस अवसर पर सी पी भट्ट पर्यावरण एवं विकास केंद्र के प्रबंध न्यासी ओम् प्रकाश भट्ट ने विकास केंद्र तथा उसके द्वारा संचालित गतिविधियों एवं कार्यक्रमो के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

इस दौरान विद्यालय में आयोजित इस कार्यक्रम का संचालन मंगला प्रसाद सती ने किया। वहीं विद्यालय के प्रधानाचार्य दिनेश प्रसाद उनियाल, सर्वोदयी मुरारी लाल, शांति प्रसाद भट्ट, क्रांति भट्ट, मधुबाला नौटियाल, वनक्षेत्राधिकारी आरती मैठाणी, तथा विद्यालय के छात्र. छात्राओं सहित क्षेत्र के कई समाजसेवी एवं वन्य जीव प्रेमी शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

पीएम मोदी ने लगाई युवा मुख्यमंत्री के विजन पर मुहर, कहा. 25 साल के उत्तराखंड की स्वर्णिम विकास गाथा लिखेगी युवा मुख्यमंत्री की टीम

देहरादून: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देवभूमि उत्तराखंड को अगले कुछ सालों में देश के नंबर वन राज्य बनाने का संकल्पित युवा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के विजन पर मुहर लगा दी है। एम्स ऋषिकेश में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को ना सिर्फ़ युवा […]

You May Like