पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत का तीर्थ पुरोहितों को स्वार्थी कहने पर आप ने किया पलटवार,तीर्थ पुरोहितों से माफी मांगें त्रिवेन्द्र

Ghughuti Bulletin

देवस्थानम बोर्ड पर सियासत बर्दाश्त नहीं,तत्काल भंग हो देवस्थानम बोर्ड,अपने बयान के लिए तीर्थ पुरोहितों से माफी मांगे त्रिवेन्द्र रावत , जल्द भंग हो देवस्थानम बोर्ड,तीर्थ पुरोहितों के हक हकूकों के लिए सड़कों पर उतरेगी आप पूरे प्रदश में करेगी प्रदेशव्यापी आंदोलन –अमित जोशी,आप उपाध्यक्ष

देहरादून: आप प्रदेश उपाध्यक्ष अमित जोशी ने एक प्रेस बयान जारी करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत पर तीर्थपुरोहितों के अपमान का आरोप लगाया है। उन्होंने बताया कि, तीर्थ पुरोहित चारों धामों की संस्कृति की धरोहर को सहेजने का काम सदियों से करते आ रहे हैं ,लेकिन पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने उन्हें स्वार्थी कहकर उनका घोर अपमान किया है ,जिसकी आप पार्टी कडे शब्दों में निंदा करती है। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने देवस्थानम बोर्ड का गठन कर तीर्थ पुरोहितों के हक हकूकों पर डाका डालने का जो प्रयास किया है वो बिल्कुल भी तार्किक नहीं है।

उन्होंने कहा कि, त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने मुख्यमंत्री रहते हुए देवस्थानम बोर्ड का गठन करने का जो पाप किया था ,उसका दंश उनको अपने ही तिरस्कार के रुप में उस वक्त झेलना पडा, जब तीर्थ पुरोहितों ने उन्हें केदारनाथ में दर्शन किए बगैर ही लौटा दिया। अब जब बोर्ड को भंग करने की मांग तेज होने लगी है तो ,त्रिवेन्द्र सिंह रावत तीर्थ पुरोहितों को स्वार्थी कहकर उनका अपमान कर रहे हैं।

एक ओर सरकार के मुखिया तीर्थ पुरोहितों को डेट देकर तय सीमा निकलने पर भी कोई फैसला नहीं लेकर तीर्थ पुरोहितों को बरगला रहे हैं तो वहीं दूसरी ओर देश के प्रधानमंत्री देवस्थानम बोर्ड पर चुप्पी साधे है ऐसे में तीर्थ पुरोहित खुद को ठगा महसूस कर रहे हैं और आंदोलन को मजबूर हैं । उन्होंने कहा, पीएम मोदी के केदारनाथ दौरे से तीर्थ पुरोहितों को देवस्थानम बोर्ड भंग होने की आस थी, लेकिन पीएम की चुप्पी ने उनकी नाराजगी को और बढा दिया है। आप पार्टी पहले से ही देवस्थानम बोर्ड को भंग करने की मांग कर रही है । उन्होंने आगे कहा कि बीजेपी के नेताओं का काम सिर्फ झूठ बोलना और लोगों को बहलाना ही है ,लेकिन अब जनता समझदार हो चुकी है। वो इनके जुमलों में नहीं फंसने वाली। उन्होंने कहा कि, जिस बाबा केदारनाथ की पूरी दुनिया के हिंदु भक्त हैं ,उसी बाबा के दर पर जाकर पीएम ने ना सिर्फ मर्यादाओं का हनन किया ,बल्कि मंदिर परिसर में जूते पहनकर जाकर गर्भ गृह के अंदर की तस्वीरों को भी चैनलों के माध्यम से लाईव टेलीकास्ट करवाया ,जिसकी जिनती निंदा की जाए उतनी कम है।

अमित जोशी ने कहा कि, आप पार्टी मांग करती है कि पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत अपने बयान पर तीर्थ पुरोहितों से तुंरत माफी मांगे ,और बीजेपी सरकार जल्द देवस्थानम बोर्ड को भंग करे। अब ना तो तीर्थ पुरोहित और ना ही आप पार्टी बोर्ड के नाम पर बीजेपी द्वारा हो रही राजनीति को बर्दाश्त करेंगे। उन्होंने कहा कि ,अगर बोर्ड भंग नहीं होता और त्रिवेन्द्र रावत माफी नहीं मांगते, तो आप पार्टी पूरे प्रदेश में इनके खिलाफ उग्र प्रदर्शन करते हुए सडकों पर उतरेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

गलती के लिए मद्रास हाईकोर्ट ने सुप्रीम कोर्ट से मांगी माफी

चेन्नई: भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के एक अधिकारी द्वारा आर्थिक अपराध में शामिल एक महिला से तीन करोड़ की जबरन वसूली के आरोप में दायर एक रिट याचिका को निपटाने में मद्रास हाई कोर्ट को लग गए।  इस देरी के लिए मद्रास हाईकोर्ट ने सुप्रीम कोर्ट से माफी मांगी है। […]