देहरादून से नैनीताल गए टैक्सी चालक की हत्या, रामनगर की झाड़ियों में मिला शव

Ghughuti Bulletin

देहरादून:  रामनगर के पीरूमद्वारा की झाड़ियों में मिला शव देहरादून से नैनीताल गए टैक्सी चालक का निकला। मृतक टैक्सी चालक की शिनाख्त सलीम अहमद निवासी रिस्पना नगर नेहरू कालोनी देहरादून के रूप में उनके पुत्र उमेर रही ने की।

पुलिस को दी तहरीर में मृतक के पुत्र उमेर ने बताया कि उसके पिता टैक्सी चलाते थे। बीते 27 जून को कुछ लोग उनके पिता की टैक्सी को देहरादून से नैनीताल के लिए बुक कराकर ले गए थे।

उमेर ने बताया कि देवभूमि कैब के अरशद खान ने उसके पिता को तीन दिन के लिए टैक्सी बुक करके अज्ञात लोगों के साथ नैनीताल भेजा था। और उसी रात दो बजे एक व्यक्ति ने अरशद खान के वाट्सएप पर उसके पिता की फोटो भेज कर लिखा की यह अभी सो रहे हैं, इन्हें नींद आ रही है। इसके बाद रात ढाई बजे से उसके पिता के साथ उस व्यक्ति का फोन भी बंद हो गया था।

यह सब होने के बाद उमेर ने बताया कि दूसरे दिन दोपहर तक जब उसके पिता का फोन बंद रहा तो उसने नेहरू कॉलोनी थाने में जाकर फोन नंबर की लोकेशन ट्रेस कराई तब लोकेशन कालाढूंगी की निकली। 28 जून की शाम को नेहरू कॉलोनी थाने से पता चला कि रामनगर क्षेत्र में एक व्यक्ति का अज्ञात शव मिला है रामनगर थाने से भेजी गई फोटो से उसने मृतक की शिनाख्त अपने पिता के रूप में की।

मृतक के पुत्र का कहना है कि अज्ञात व्यक्ति उसके पिता की हत्या कर शव सड़क किनारे फेंककर गाड़ी व सभी दस्तावेज एवं उनका मोबाइल फोन लेकर फरार हो गए। मामले में पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या व लूट के अलावा साक्ष्य छुपाने के मामले में मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। कोतवाल अबुल कलाम ने बताया कि शीघ्र ही मामले का खुलासा किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

रुड़की: ईट भट्टा मालिक पर बदमाशें ने की ताबड़तोड़ फायरिंग, मौके पर ही मौत, मामले की जांच में जुटी पुलिस

देहरादून: हरिद्वार जिले के मंगलौर कोतवाली क्षेत्र के कुंराड़ गांव में भट्टा स्वामी की बदमाशों ने गोली मार कर हत्या कर दी। घटना के बाद कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंच गई है। घटना के अनुसार ईट भट्टा स्वामी अजय मलिक निवासी मुजफ्फरनगर की बदमाशों ने उस वक्त गोली […]