माता सावित्री बाई फूले ने जगाई थी दबे, कुचले शोषित व पिछडे समाज के लोगों में शिक्षा की क्रांतिः कल्पना सैनी

हरिद्वार:  भेल अन्य पिछडा वर्ग कर्मचारी एसोसियेशन द्वारा  सामुदायिक केंद्र सेक्टर.4 में  माता सावित्री बाई फूले की जयंती विवेक कुमार, महाप्रबंधक एवं सरंक्षक की अध्यक्षता में धूमधाम से मनाई गई।

समारोह के मुख्य अतिथि अन्य पिछडा वर्ग आयोग, उतरांचल की अध्यक्षा डाए. कल्पना सैनी ने कहा कि सावित्री बाई फूले के संघर्षशील जीवन व उनके समाजसुधार के कार्यो की जानकारी देते हुए कहा कि माता सावित्री बाई फूले ने दबे.कुचले शोषित व पिछडे समाज के लोगो में शिक्षा की क्रांति जगाई थी, जिन परिस्थितयों में सावित्री बाई फूले ने बालिकाओं की शिक्षा के लिए विद्यालय की स्थापना की, वह सभी के लिए  प्रेरणादायक है।

इसी क्रम में उन्होंने कहा कि परम्पराओं के नाम पर कूडा.करकट ढोने वाले घोर जातिवादी व पाखण्डी भारतीय समाज में सुधार व शिक्षा के लिए फूले दम्पति ने बहुत सारे अत्याचार व अपमान को सहन किया लेकिन हार नही मानीद्य रास्ते में अपने ऊपर फेंके गये गोबर.कीचड की परवाह किये बगेर माता सावित्री बाई फूले ने निरंतर शिक्षण व समाज सुधार का कार्य आजीवन जारी रखा

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए विवेक कुमार ने कहा कि माता सावित्री बाई फूले के शिक्षा के प्रति किये गये संघर्षो से प्रेरणा लेकर समाज में शिक्षा को आगे बढाना चाहिए तथा गरीब बच्चो की शिक्षा दिलाने में मदद करनी चाहिए !

समारोह में उपस्थित सर्व श्री सुभाष सैनीए सियाशरण यादवए नेत्रपालए घनशयाम यादवए सचिन सोनीए धर्मेंद्र लोधीए आशिष सैनीए कमलेशवर पालए गुरूदत धीमानए संतोषए राजीव प्रजापतिए अमित जांगडए इंद्र सैनीए वी पी सिंह सैनीए आदि ने अतिथियों का स्वागत किय द्य कार्यक्रम का संचालन सत्यदेव सोनी द्वारा किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

सर्दी के सितम से राहत दिलाने के लिए प्रशासन ने तैयार किया प्लान

पिथौरागढ़:  सीमांत जनपद पिथौरागढ़ में सर्दियों के सीजन से निपटने के लिए प्रशासन ने अपनी तैयारियां तेज कर दी हैं। बॉर्डर के इलाकों के लिए जरूरी सामान इकठ्ठा कर लिया है। वहीं निचले क्षेत्रों में मौसम के सितम से निपटने का प्लान भी तैयार कर दिया है। जिले के सभी […]