एनएचएम में शीघ्र भरे जायेंगे 1865 रिक्त पदः डा. धनसिंह रावत

Ghughuti Bulletin

-ग्राम स्तर पर गठित होंगी स्वास्थ्य, स्वच्छता एवं पोषण समितियां

-बागेश्वर एवं रूद्रप्रयाग को दिया शीघ्र सौ फीसदी वैक्सीनेशन का लक्ष्य

-जनप्रतिनिधियों को दी जायेगी स्वास्थ्य विभाग की योजनाओं की जानकारी

देहरादून:  प्रदेश के नव नियुक्त चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री डाण् धन सिंह रावत ने आज विधानसभा स्थित सभाकक्ष में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की समीक्षा बैठक में की। इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री ने विभागीय प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं को और बेहतर करने के लिए अधिकारियों को जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिये।

चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत ने कहा कि प्रदेशभर में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत रिक्त 1865 पदों को शीघ्र भरा जायेगा। जिसमें स्टाफ नर्स, एएनएम, लैब टेक्निशियन सहित अन्य पैरा मेडिकल स्टाफ शामिल है। विभागीय मंत्री ने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि रिक्त पदों को भरने के लिए जल्द विभागीय प्रक्रिया को अमल में लाया जाय। सूबे में स्वास्थ्य सुविधाओं की स्थिति को मजबूत बनाने के लिए ग्राम स्तर पर स्वास्थ्य, स्वच्छता एवं पोषण समितियों के गठन करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिये गये। उन्होंने कहा कि ग्राम स्तर पर समितियों का गठन किया जाना अति आवश्यक है ताकि स्वास्थ्य सुविधाओं की बेहत्तरी के लिए ग्राम स्तर पर योजनाएं तैयार कर आम आदमी को स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध हो सकेंगी।

राज्यभर में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) के अंतर्गत चिकित्सक, आयुष चिकित्सक, एएनएम, स्टाफ नर्स एवं पैरा मेडिकल स्टाफ के रिक्त 1865 पदों पर शीघ्र भर्ती की जायेगी। सूबे में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को मजबूत करने के लिए ग्राम स्तर पर स्वास्थ्य, स्वच्छता एवं पोषण समितियों का गठन किया जायेगा। वैश्विक महामारी कोविड.19 से बचाव के लिए सर्वप्रथम बागेश्वर व रूद्रप्रयाग जिलों को शत प्रतिशत वैक्सीनेशन करने का लक्ष्य दिया गया है। स्वास्थ्य सुविधाओं की जानकारी आम जनता तक पहुचाने के उद्देश्य से जल्द ही जन प्रतिनिधियों के सम्मेलन आयोजित कर स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रस्तुतिकरण दिया जायेगा।

वैश्विक महामारी कोविड.19 से बचाव के लिए राज्यभर में चल रहे वैक्सीनेशन अभियान को ज्यादा प्रभावी बनाने के लिए डा. रावत ने विभागीय अधिकारियों को जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि बागेश्वर एवं रूद्रप्रयाग जनपदों में वैक्सीनेशन का प्रदर्शन अन्य जिलों के मुकाबले बेहत्तर है। लिहाजा दोनों को जल्द से जल्द शत प्रतिशन वैक्सीनेशन का लक्ष्य प्राप्त कर पूरे देश में नया रिकार्ड दर्ज करने को कहा गया है। विभागीय मंत्री ने कहा कि राज्य एवं केन्द्र सरकार द्वारा संचालित विभिन्न स्वास्थ्य योजनाओं की जानकारी आम लोगों तक पहुंचाने के उद्देश्य से शीघ्र ही सूबे के जनप्रतिनिधियों के सम्मेलन आयोजित कर स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रस्तुतिकरण दिया जायेगा। प्रथम चरण में सूबे के सांसद एवं विधायाकों का सम्मेलन तथा द्वितीय चरण में जिला पंचायत अध्यक्षों, नगर निकाय अध्यक्षों तथा ब्लाक प्रमुखों का सम्मेलन आयोजित किया जायेगा।

बैठक में स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी, मिशन निदेशक एनएचएम सोनिका, निदेशक डा. सरोज नैथानी, प्रभारी अधिकारी डा. वी.एस. टोलिया, डा. (ले. कर्नल) अजय कुमार, डा. अर्चना ओझा, डा. पंकज सिंह, डा. कुलदीप सिंह, डा. भार्गव गाइकवाड़, डा. मयंक बडोला, डा. अश्विनी सहित अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

विकास ही सरकार का मुख्य एजेंडाः धामी

-सीएम ने अफसरों को दिया अल्टीमेटम -15 अगस्त तक पूरा कर लें योजनाओं का काम -30 दिन में टास्क पूरा करने का दिया आदेश देहरादून। मुख्यमंत्री की कमान संभालने के बाद से ही पुष्कर सिंह धामी काफी सक्रिय नजर आ रहे हैं। इसी क्रम में सीएम ने अधिकारियों को 30 […]