भू.कानून संशोधन की गठित समिति ने की बैठक, जानकारों के सुझाव सहित विचार विमर्श करने का लिया निर्णय

Ghughuti Bulletin

देहरादून: भू.कानून संशोधन को लेकर बुधवार को बीजापुर अतिथि गृह के सभागार में भू.कानून में संशोधन हेतु गठित की गई समिति सदस्यों की बैठक हुई। बैठक में चर्चा के बाद समिति के सभी सदस्यों ने निर्णय लिया कि इस बाबत सभी संबंधित के सुझाव लेने के बाद उनके साथ विचार विमर्श किया जायेगा।

उप राजस्व आयुक्त राजस्व परिषद देवानंद ने जानकारी देते हुए बताया कि बैठक में प्राप्त प्रत्यावेदन पर विचार करते हुए उ.प्र. जमींदारी विनाश एवं भूमि व्यवस्था अधिनियम.1950 की विभिन्न धाराओं पर हिमाचल प्रदेश के भू.कानून के परिपेक्ष्य में चर्चा की हुई।चर्चा के बाद निर्णय लिया गया कि इस विषय में सभी संबंधित के सुझाव प्राप्त किये जायेगे व आवश्यकता होने पर उनके साथ विचार विमर्श किया जायेगा।

बैठक में समिति के अध्यक्ष सुभाष कुमार.आई०ए०एस० (सेवानिवृत्त), सदस्य अरूण कुमार ढौंडियाल,आई०ए०एस० (से.नि.) ए डी.एस.गर्व्याल, आई.ए.एस. (से०नि०) तथा सदस्य सचिव बी.वी.आर.सी. पुरुषोत्तम सचिव राजस्व उत्तराखण्ड शासन उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

उत्तराखंड के बेरोजगारों को सिंचाई मंत्री की बड़ी सौगात, निविदा प्रक्रिया के तहत, 50 लाख तक के कार्यों के लिए अनुभव प्रमाण पत्र की आवश्यकता समाप्त

देहरादून: प्रदेश के सिंचाई मंत्री सतपाल महाराज ने गुरुवार को प्रदेश के बेरोजगारों को एक बड़ा तोहफा देते हुए 50 लाख तक की निविदा हेतु लिए मंगे जाने वाले अनुभव प्रमाण पत्र की अनिवार्यता को समाप्त कर दिया है। सिंचाई मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि सिंचाई विभाग में निविदा […]