पीड़ित राज्य आंदोलनकारी मंच ने आन्दोलन तेज करने का लिया निर्णय, प्रेस वार्ता कर बतायेंगे रणनीति

Ghughuti Bulletin

देहरादून: पीड़ित राज्य आंदोलनकारी मंच का आठवें दिन भी धरना जारी रहा I मंच की मांग है कि पूर्व की भांति राज्य आंदोलनकारियों के लिए राज्याधीन सेवाओँ में दस प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण की बहाली की जायI जिसको लेकर वह लगातार पिछले आठ दिनों से शहीद स्मारक पर अनिश्चितकालीन क्रमिक अनशन के साथ धरना दे रहे हैंI

बुधवार को धरने के दौरान आंदोलनकारियों ने एक बैठक करआंदोलन को और तेज करने का निर्णय लिया है। जिसको लेकर मंच के पदाधिकारी शुक्रवार 9 जून को शहीद स्मारक पर पत्रकार वार्ता कर आगे की रणनीति की घोषणा की करेंगे।

बैठक के दौरान मंच के अध्यक्ष क्रांति कुकरेती ने बताया कि विधानसभा चुनाव से पूर्व मुख्यमंत्री से कई बार बातचीत की गई थी, जिसके चलते मंत्री -परिषद की अंतिम बैठक में मुख्यमंत्री की पहल पर राज भवन में लंबित पड़े एक्ट पर राज्यपाल से हस्ताक्षर करने का अनुरोध भी किया गया था। परन्तु अभी भी इस विषय पर आज तक कोई सकारात्मक कार्रवाई नहीं हुई है। इसलिए विवश होकर आंदोलनकारी पुनः आंदोलन पर मजबूर हो गये हैं।

बता दें कि तीन माह पूर्व दस प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण की घोषणा न करने की स्थिति में क्रांति कुकरेती ने सरकार को आत्म दाह करने की चेतावनी दी थीI जिसपर मुख्यमंत्री धामी के आश्वासन के बाद उन्होंने फैसला वापस ले लिया था

बुधवार को धरने पर पंकज रावत, मनोज कुमार,राम किशन,नवनीत अम्बुज शर्मा, शिव प्रसाद, क्रांति कुकरेती, प्रभात डंडरियाल, विनोद असवाल,प्रदीप कुकरेती, दिवाकर उनियाल आदि बैठे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

केदारनाथ धाम व यात्रा मार्ग पर दस दिनों से चल रहा विशेष स्वच्छता अभियान, जिलाधिकारी ने दिए थे निर्देश

रुद्रप्रयाग: जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने केदारनाथ यात्रा मार्ग व केदारनाथ धाम में पर्यावरण के संरक्षण के लिए बेहतर साफ-सफाई व्यवस्था कराए जाने को लेकर सुलभ संस्था, जिला पंचायत एवं नगर पंचायत केदारनाथ को विशेष स्वच्छता अभियान चलाये जाने के निर्देश दिए हैंI जिसके चलते केदारनाथ धाम व यात्रा मार्ग पर […]