कारोना संक्रमण से बचाव को लेकर, सेवा निवृत मुख्य अभियंता ने पत्र लिखकर दिये मुख्यमंत्री को सुझाव

Ghughuti Bulletin

देहरादून:  मुख्य अभियंता(से.नि.) उत्तराखंड महेश चंद्र गुप्ता ने मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत को कोरोना महामारी के संक्रमण से बचाव हेतु पत्र लिखकर कुछ सुझाव प्रेषित किये है।

सुझाव मे कहा गया है कि गत वर्ष से जारी कोरोना महामारी के संक्रमण की रोकथाम हेतु सरकार द्वारा उठाए गए कदम निश्चित रूप से प्रशंसनीय है इसके बावजूद संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ते जाना निश्चित रूप से चिंता का विषय है मैं एक जागरूक नागरिक के नाते और अपने वृहद अनुभव के आधार पर महामारी संक्रमण को रोकने हेतु कुछ सुझाव प्रस्तुत कर रहा हूं आपसे अनुरोध है कि कृपया इन पर विचार करके यदि उचित लगे तो इन्हें लागू करवाने की कृपा करें।

मुख्य अभियंता ने पत्र पत्र में लिखा कि,मैंने समय-समय पर किए गए भ्रमण के दौरान यह पाया है कि आवश्यक वस्तु /किराना स्टोर/ सब्जी/फल वाले, आदि दुकानों पर जिस प्रकार से सामान की बिक्री की जा रही है उससे संक्रमण के फैलने की हर वक्त आशंका रहती है।

इसे रोकने के लिए यह व्यवस्था की जा सकती है

1. कि कोई भी व्यक्ति दुकान के अंदर ना घुसे ।दुकान के बाहर दुकानदार का व्हाट्सएप नंबर लिखा हो, जिस पर व्यक्ति अपने आवश्यक सामान को लिखकर या लिस्ट मैसेज कर दे। और दुकानदार जब सामान पैक हो जाए तब उसकी धनराशि मैसेज द्वारा बता सके। बिल का भुगतान यथासंभव ऑनलाइन किया जाए।

यदि ऐसा ना हो सके तो पैसों के लेनदेन के बाद ग्राहक अपने हाथ सेनीटाइज जरूर करें।

इसी प्रकार बड़े स्टोर्स जैसे सुविधा, बिग बाजार, ईजी डे, आदि के अंदर ग्राहकों को जाने की अनुमति ना हो ।वहां भी वह अपनी लिस्ट व्हाट्सएप या कागज पर लिखकर दें और उसे कंपनी के कर्मचारी बिल के साथ काउंटर पर रखें। वहां से भुगतान के बाद व्यक्ति अपना सामान लेकर जाए ऐसा करने से 2 गज की दूरी भी बनी रहेगी।

2.यही व्यवस्था सब्जी और फल वालों के पास भी करनी चाहिए।

3.ऑक्सीजन की कमी को दूर करने के लिए हर जिले में एक सेंट्रलाइज्ड ऑनलाइन सिस्टम बनाया जाए जिसमें व्यक्ति अपनी आवश्यकता रजिस्टर करें और उसे उसका नंबर आने पर ऑक्सीजन सप्लाई दी जाए।

4.अस्पतालों में बेड की व्यवस्था बढ़ाने हेतु जिले के बड़े-बड़े शादी मंडप यानी बैंकट हॉल तथा क्लब हाउस और होटल के बड़े हॉल को अधिग्रहित कर कोविड-19 सेंटर में परिवर्तित किया जा सकता है।

5. पूरे बाजार को एक साथ खोलने के बजाय दो दुकानों के बीच में एक दुकान को बंद रखते हुए अर्थात एकांतर व्यवस्था के अंतर्गत दुकान खोली जाए ऐसा करने से दो दुकानों के बीच में ग्राहकों को खड़े होने की जगह मिल जाएगी जो दुकान पहले दिन खुलेगी वह दूसरे दिन बंद रखी जाए।

कृपया उपरोक्त बिंदुओं पर विचार कर आवश्यक निर्देश देना चाहे ।
मुझे उम्मीद है ऐसा करने से अनावश्यक रूप से बढ़ रहे संक्रमण को काफी हद तक नियंत्रित किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

चार धाम यात्रा स्थगित होने से छूटे कारोबारियों के पसीने,मदद की गुहार

देहरादून: कोरोना महामारी के कहर के चलते इस बार फिर चारधाम यात्रा को राज्य सरकार ने स्थगित कर दिया है। जिसके बाद चारधाम यात्रा से जुडे़ कारोबारियों के आगे फिर से रोजी रोटी का संकट खड़ा हो गया है।अब कारोबारी इस मामले में राज्य सरकार से मदद की गुहार लगाने […]