रीलोकेशन के लिए बाघ को किया ट्रैंकुलाइज, राजाजी नेशनल पार्क में किया शिफ्ट

 

रामनगर:  जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क से पहली बार टाइगर रीलोकेशन कार्यक्रम चलाया जा रहा है. जिसके तहत बीते दिनों कॉर्बेट नेशनल पार्क से पहली बाघिन को राजाजी नेशनल पार्क में शिफ्ट किया गया था। वहीं कॉर्बेट नेशनल पार्क प्रशासन ने बीते देर रात कार्बेट के झिरना रेंज से बाघ को ट्रैंकुलाइज किया, जिसके बाद उसे राजाजी नेशनल पार्क के लिए रवाना किया गया।

वहीं जिम कॉर्बेट नेशनल प्रशासन छह दिन से बाघ की तलाश में जुटा हुआ था, जिसमें ड्रोन की भी मदद ली गई। गौर हो कि 5 बाघों को राजाजी नेशनल पार्क में शिफ्ट किया जाना है, लेकिन शुरुआत में दो बाघों की परमिशन दी गई है। बीते दिनों पहली बाघिन को ट्रैंकुलाइज कर कॉर्बेट से राजाजी नेशनल पार्क शिफ्ट कर दिया गया था।

वहीं बीते देर रात जिम कॉर्बेट नेशनल प्रशासन ने बाघ को ट्रैंकुलाइज किया, जिसके बाद उसे राजाजी नेशनल पार्क भेजा गया। बाघ को राजाजी नेशनल पार्क में शिफ्ट करने के लिए उसे ट्रैंकुलाइज कर बाड़े में डाला गया है। इसके बाद एक एंबुलेंस के जरिए राजाजी के लिए रवाना किया गया।

गौरतलब है कि  राजाजी में एक बड़ा क्षेत्र बाघों के लिहाज से अनुकूल माना जाता है और यहां पर महज दो बाघिन होने के चलते दूसरे कुछ बाघों को यहां लाकर राजाजी में बाघों की संख्या बढ़ाने का कार्यक्रम है।

इसी को लेकर राजाजी में एक बड़ा बाड़ा भी तैयार किया गया है, जहां पर इस बाघिन को करीब 4 दिनों तक रखा जाएगा। बाघिन को मेडिकल रूप से पूरी तरह फिट पाए जाने के बाद इसे जंगल में छोड़ दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

 उत्तरकाशी में महसूस किए गए भूकंप के झटके

भूकंप का केंद्र उत्तरकाशी और तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 3.3 मापी गई है। देहरादून:  एक दिन पहले शुक्रवार को उत्तराखंड के बागेश्वर जिले में भूकंप का झटका आने के बाद अब शनिवार को उत्तरकाशी में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। शनिवार सुबह 11.27 पर उत्तरकाशी जिला मुख्यालय समेत […]