चोरी की दो स्कूटी के साथ दो चोर गिरफ्तार, कोतवाली पुलिस ने दबोचे वाहन चोर

Ghughuti Bulletin

देहरादून:  उत्तराखंड में लगातार चोरी की शिकायतें दर्ज हो रही है। इस पर उत्तराखंड मित्र पुलिस की लगातार धड़पकड़ जारी है।

वही देहरादून में अलग-अलग तिथियों पर शिकायत मिली है जिसमें शिकायतकर्ता उमेश शर्मा ने तहरीर दी की 4 मई को उसकी स्कूटी ग्राजिया संख्या यूके 07 डीपी 5258 किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा खुडबुडा मोहल्ले से घर के बाहर से चोरी कर ली गई है।

दूसरी शिकायत हिमांशु हांडा ने दी  जिसमे शिकायकर्ता की स्कूटी जूपिटर संख्या यूके 07 डीएच 4208 किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा 11 जून को दोपहर के समय उसके घर के आंगन से चोरी कर ली है।

तीसरी शिकायत राजेश कुमार द्वारा दी गई कि शिकायकर्ता एक्टिवा नंबर यूके 07 बीयू-8514 किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा चोरी कर ली गई।

लगातार वाहन चोरी की घटना होने पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा तत्काल अभियुक्तों की गिरफ्तारी करते हुए चोरी किए गए वाहनों की शत-प्रतिशत बरामदगी के संबंध में आदेशित किया गया था।

जिसके अनुपालन में पुलिस अधीक्षक व क्षेत्राधिकारी नगर के निर्देशन में प्रभारी निरीक्षक कोतवाली नगर द्वारा तीन पुलिस टीम, वर्दी एवं सादा वस्त्रों में चैकिंग अभियान के दिशा निर्देश दिए गए।

गठित पुलिस टीम द्वारा लगभग 70 से अधिक सीसीटीवी कैमरों का बारीकी से निरीक्षण कर 22 पुराने वाहन चोरों का सत्यापन कर पूछताछ की गई। जिस पर सोमवार को मुखबिर की सूचना पर गठित टीम ने चेकिंग के दौरान दो लड़कों को रोककर चेक किया।

वाहनों के कागजात न दिखाने पर सख्ताई से से पूछताछ की गई तो उनके द्वारा बताया गया कि यह दोनो स्कूटी ग्राजिया एवं जुपिटर चोरी की है जिस पर दोनों चोरों को चेकिंग स्थान खुडबुडा मोहल्ले से गिरफ्तार किया गया।

पूछताछ में दोनो आरोपी आकाश एवं गौरव द्वारा बताया गया कि हम दोनों ही नशा करने के आदी हैं, एवं अपनी नशे की जरूरतों को पूरा करने के लिए ही उपरोक्त वाहन चोरी किए थे। जिन्हें आज हम बेचने ले जा रहे थे।

आरोपियों को पकड़ने वाली पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक कोतवाली नगर रितेश शाह, वरिष्ठ उपनिरीक्षक लोकेंद्र बहुगुणा, उपनिरीक्षक पंकज तिवारी , कॉन्स्टेबल शिव सिंह, संतोष पवार, रविंद्र सिंह, अविनाश, किरण (एसओजी) मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

हिमाचल आने वाले लोगों की कोविड ई-पास साॅफ्टवेयर के माध्यम से निगरानी की जाएगी

शिमला:  प्रदेश में आने वाले लोगों की सुविधा के लिए, सरकार ने राज्य में प्रवेश करने के लिए आरटीपीसीआर आवश्यकता की शर्त को हटा दिया है, लेकिन साथ ही कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सरकार द्वारा निर्धारित मानदंडों का उल्लंघन करने की किसी को अनुमति नहीं दी गई है। […]