अनियंत्रित होकर अलकनंदा नदी में गिरा ट्रक, तलाश शुरू

Ghughuti Bulletin

रुद्रप्रयाग: ऋषिकेश-बदरीनाथ राजमार्ग-56 के पेट्रोल पंप के पास एक ट्रक अनियंत्रित होकर अलकनंदा नदी में जा गिरा।

बताया जा रहा है कि हादसे के बाद ट्रक और चालक का कोई पता नहीं है। आपदा कंट्रोल रूम से मिली सूचना के बाद आपदा प्रबंधन टीम, पुलिस और एसडीआरएफ की टीम ने मौके पर पहुंचकर सर्च अभियान शुरू कर दिया है।

घटना सुबह चार बजे की बताई जा रही है। दरअसल, रुद्रप्रयाग-ऋषिकेश हाईवे रुद्रप्रयाग में आरसीसी कंपनी की ओर से ऑल वेदर का कार्य चल रहा है।

कंपनी का ट्रक शुक्रवार  सुबह चार बजे के करीब तिलणी से रुद्रप्रयाग की ओर आ रहा था। इस दौरान पेट्रोल पंप के पास ट्रक अनियंत्रित होकर अलकनंदा नदी में जा गिरा।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार रुद्रप्रयाग की ओर से तेजी से आ रही एक कार को बचाने के चक्कर में ट्रक अनियंत्रण होकर अलकनंदा नदी में जा गिरा।

स्थानीय लोगों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। सूचना पर कोतवाल रुद्रप्रयाग कुंवर सिंह बिष्ट ने एसडीआरएफ, फायर सर्विस व जल पुलिस की टीम को मौके पर बुलाया।

लेकिन अंधेरा होने के कारण रेस्क्यू नहीं हो पाया। ऐसे में फिर सुबह छह बजे से एसडीआरएफ की टीम ने रेस्क्यू अभियान शुरू किया।

टीम रस्सी के सहारे अलकनंदा नदी में गई, जहां उन्हें एक मोबाइल मिला, जिससे पता चला कि ट्रक चालक नदी में बह गया है। उसका नाम बिट्टू है और वह नेपाल का रहने वाला है। वह आरसीसी कंपनी में ट्रक चालक है।

कोतवाल रुद्रप्रयाग कुंवर सिंह बिष्ट ने बताया कि ट्रक में दो लोग सवार थे, जिसमें ट्रक व चालक नदी में समा गए हैं। जबकि हेल्पर फरार चल रहा है।

उन्होंने बताया कि अलकनंदा नदी में जल पुलिस की ओर से रेस्क्यू अभियान चलाया जा रहा है, लेकिन अभी तक चालक का कोई पता नहीं चल पाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

मिथुन लग्न की शुभ बेला पर खोले गए गंगोत्री धाम के कपाट

उत्तरकाशी: अक्षय तृतीया के मिथुन लग्न की शुभ बेला पर शनिवार को शनिवार सुबह साढ़े सात बजे पर विश्व प्रसिद्ध गंगोत्री धाम के कपाट छह माह के लिए खोल दिए गए। कोरोना महामारी के मद्देनजर सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार इस बार बिना श्रद्धालुओं के कपाट खोले गए। कपाटोद्घाटन […]