व्हाट्सऐप आपकी गोपनीयता की रक्षा व सम्मान करता

देहरादून:  व्हाट्सऐप ने अपनी अपडेटेड गोपनीयता की नीति एवं सेवा की शर्तों की घोषणा की है। इस अपडेट में व्हाट्सऐप पर व्यवसाय के संदेश भेजने बारे किए गए परिवर्तन शामिल हैं।

यह वैकल्पिक है और इस बारे में पारदर्शिता प्रदान करता है कि हम डेटा को किस प्रकार एकत्रित एवं इस्तेमाल करते हैं।

व्हाट्सऐप ने घोषणा की कि यह गोपनीयता की नई नीति की शर्तें स्वीकार करने के लिए लोगों को दी गई तारीख को आगे बढ़ा रहा है।

8 फरवरी की समय सीमा से पहले किसी का भी अकाउंट खारिज या डिलीट नहीं किया जाएगा। हम इस बारे में जानकारी स्पष्ट करने का अथक प्रयास कर रहे हैं कि व्हाट्सऐप पर गोपनीयता एवं सुरक्षा कैसे काम करती है।

इसके बाद हम धीरे धीरे लोगों के पास जाकर स्वयं की गति से नीतियों की समीक्षा करने के लिए कहेंगे, उसके बाद नए व्यवसायिक विकल्प 15 मई से उपलब्ध कराए जाएंगे।

हमने अनेक लोगों से सुना है कि हमारे नए अपडेट के बारे में कितना ज्यादा भ्रम है। अनेक भ्रामक जानकारियां चिंता का विषय हैं और हम चाहते हैं कि हर कोई हमारे सिद्धांतों एवं तथ्यों को जाने।

अपडेट के तहत, कंपनी व्यवसायों को सुरक्षित फेसबुक इन्फ्रास्ट्रक्चर पर अपनी चैट्स का प्रबंधन करने का विकल्प प्रस्तुत कर रही है। इस मामले में फेसबुक की भूमिका व्यवसाय की ओर से एवं व्यवसाय के निर्देशों के तहत संदेशों का सुरक्षित प्रबंधन करने की है।

पूरी पारदर्शिता के लिए व्हाट्सऐप यूजर्स को चैट में सबसे ऊपर दाईं ओर यह जानने की सुविधा देगा कि व्यवसाय को फेसबुक से सपोर्ट कब मिल रही है। यह यूजर की इच्छा पर है कि वो व्यवसाय को व्हाट्सऐप पर संदेश भेजना चाहते हैं या फिर वो केवल दोस्तों के साथ संचार करना चाहते हैं।

इस अपडेट से दोस्तों या परिवार के साथ आपके संदेशों की गोपनीयता किसी भी तरह से प्रभावित नहीं होगी।

दोस्तों व परिवार से की गई निजी चैट, चाहे वह एक दूसरे से की गई चैट हो या सामूहिक चैट, हर मामले में वह एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन द्वारा पूरी तरह से सुरक्षित होगी। न तो व्हाट्सऐप और न ही फेसबुक व्हाट्सऐप पर दोस्तों, परिवार और साथियों के बीच की बात को सुन सकता है और न ही संदेश पढ़ सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

दामाद ने की ससुर की पीट-पीट कर हत्या

हल्द्वानी: गोरापड़ाव के पास हेड़ागज्जर गांव में एक विवाहिता ने प्रताड़ना से तंग आकर ससुराल जाने से मना किया तो पति ने अपने पिता की मदद से दिव्यांग ससुर को पीटकर मार डाला। बीच-बचाव के लिए आए साले और सास को भी पीट दिया। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर दामाद […]