डिजास्टर रिस्क मैनेजमेंट में मीडिया की भूमिका पर कार्यशाला का आयोजन

Ghughuti Bulletin

देहरादून:  सस्टेनेबल एनवायरमेंट एंड इकोलॉजिकल डेवलपमेंट (सीड्स) के सहयोग से डिजास्टर रिस्क मैनेजमेंट में मीडिया की भूमिका पर देहरादून के प्रेस क्लब में एक कार्यशाला का आयोजन किया गया।

इस कार्यशाला का मुख्य उद्देश्य डिजास्टर मैनेजमेंट के विभिन्न चरणों में जानकारी और सूचना फैलाने के संदर्भ में इलेक्ट्रॉनिक और प्रिंट मीडिया की विस्तृत भूमिका पर प्रकाश डाला।

यह सत्र कम्युनिटी बेस्ड डिजास्टर रिस्क मैनेजमेंट के परिचय और आपदा घटना के दौरान मीडिया रिपोर्टिंग की मूल बातों के साथ आरंभ हुआ. सत्र में निदेशक प्लैनिंग एंड मोबिलाइजेशन पराग तलंकर ने बताया कि किस प्रकार समुदाय में सक्रिय मीडिया पार्टनरशिप जो कि आपदा जोखिम के प्रति अति संवेदनशील है।

जागरूकता उत्पन्न करने में सहायता करते हैं। इसके अतिरिक्त इस कार्यशाला में इस बात पर भी फोकस किया गया कि किस प्रकार एक प्रभावी मीडिया, विभिन्न आपदाओं पर समुदाय में जागरूकता फैलाने के साथ ही पूर्व चेतावनी व प्रसार एवं शिक्षित करने में सहायता भी करता है।

दरअसल कार्यशाला का मुख्य उद्देश्य प्रिंट इलेक्ट्रॉनिक और नए युग के मीडिया के माध्यम से प्रशिक्षित डिजास्टर मैनेजमेंट ऑफिशियल्स, सूचना प्रबंधन में प्रशिक्षण और सटीक जानकारी के प्रसार के लिए सटीक मीडिया रिपोर्टिंग करने के महत्व पर जोर देना था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

हरिद्वार कुंभः सरकार की एसओपी का विरोध जारी

हरिद्वार:  कुंभ का पहला शाही स्नान महाशिवरात्रि पर 11 मार्च को सकुशल संपन्न हो गया, लेकिन साधु-संतों की नाराजगी अभी भी बनी हुई है। साधुं-संत लगातार हरिद्वार कुंभ को लेकर जारी की गई एसओपी (मानक संचालन प्रक्रिया) का विरोध कर रहे है। क्योंकि एसओपी में भजन कीर्तन पर पाबंदी लगाई […]